• भारतीय वायु सेना का अफ़सर गिरफ़तार, हनी ट्रैप में फंसकर संवेदनशील जानकारी लीक करने का आरोप

भारतीय वायु सेना का एक अधिकारी हनी ट्रैप मामले में गिरफ़तार कर लिया गया है। दिल्ली पुलिस ने मीडिया को बताया कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने वायु सेना के अफ़सर अरुण मारवाह को गिरफ़तार कर लिया है।

ग्रुप कैप्टन मारवाह पर आरोप है कि उन्होंने हनी ट्रैप में फंस कर वासुसेना की ख़ुफ़िया जानकारी लीक कर दी।

दिल्ली पुलिस के अनुसार अरुण मारवाह पर ऑफिशल सीक्रेट एक्ट की अलग-अलग धाराओं के तहत एफ़आईआर दर्ज़ की गई और फथर उन्हें गिरफ़तार कर लिया गया। इन धाराओं में 14 साल की जेल का प्रावधान है।

मारवाह को अदालत में पेश किया गया जहां अदालत ने उन्हें पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

पुलिस का कहना है कि अरुण मारवाह वासुसेना की ख़ुफ़िया जानकारी पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई को दी जिसकी शिकायत एयरफ़ोर्स की तरफ़ से आई थी।

पुलिस के प्रवक्ता प्रमोद कुशावाहा का कहना है कि पहली नज़र में तो यह मामला हनीट्रैप का लगता है लेकिन अभी इसकी जांच जारी है। प्रवक्ता ने मीडिया को ख़ुफ़िया दस्तावेज़ की अधिक जानकारी देने से यह कहते हुए इंकार कर दिया कि यह बड़े ही संवेदनशील दस्तावेज़ों मामला है जिनकी जानकारी मीडिया को नहीं दी जा सकती।

Feb ०९, २०१८ १५:४५ Asia/Kolkata
कमेंट्स