Apr १८, २०१९ २०:०२ Asia/Kolkata
  • लोकसभा चुनाव 2019, उतार-चढ़ाव

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की जांच को लेकर चुनाव आयोग ने आईएएस अधिकारी को जहां निलंबित किया है, वहीं अब एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान अपने हेलीकॉप्टर की जांच के दौरान आपा खोते नज़र आ रहे हैं।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक़, वीडियो में देखा जा सकता है कि धर्मेंद्र प्रधान हेलीकॉप्टर की जांच के लिए आए फ्लाइंग स्क्वाड और पुलिस के साथ झगड़ा कर रहे हैं।

धर्मेंद्र प्रधान मोदी की जनसभा में शामिल होने वाले थे। वीडियो में देखा जा सकता है कि बीजेपी के केन्द्रीय मंत्री जांच दल को धमकियां दे रहे हैं और आख़िरकार उन्होंने फ्लाइंग स्क्वाड को अपना काम नहीं करने दिया।

वहीं सोशल मीडिया पर एक दूसरा वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें उसी दिन राउरकेला में फ्लाइंग स्क्वाड को बीजू जनता दल (बीजद) प्रमुख और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के हेलीकॉप्टर की जांच करते दिखाया गया है।

वीडियो में देखा जा सकता है कि पटनायक जांच दल के साथ पूरा सहयोग कर रहे हैं।

कांग्रेस पार्टी ने मोदी के हेलिकॉप्टर की जांच के आरोप में एक आईएस अधिकारी के निलंबन की आलोचना करते हुए पूछा है कि मोदी ऐसा क्या लेकर चलते हैं कि उन्हें जांच से इतना डर है।

कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए कहा है, 'एक अधिकारी को वाहनों की जांच करने पर चुनाव आयोग ने निलंबित कर दिया। हालांकि नियम के तहत पीएम के वाहन को तलाशी से कोई छूट नहीं है। मोदी अपने हेलीकॉप्टर में क्या लेकर चलते हैं कि वह भारत को नहीं दिखाने चाहते?

इस बीच, बीजेपी द्वारा हत्या, षड्यंत्र रचने और इससे भी ज़्यादा वर्ष 2008 में हुए मालेगांव बम ब्लास्ट केस की आरोपी 48-वर्षीय साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को भोपाल से उम्मीदवार बनाए जाने पर लोग हैरत में हैं।

बॉलीवुड की एक एक्ट्रेस ने ट्वीट करके कहा है कि 'आतंक के मामले में संदिग्ध को चुनाव मैदान में उतारना ठीक नहीं है, इसके साथ ही लिंचर को माला पहनाना और हत्यारे को झंडे से ढंकना भी सही नहीं है।

ग़ौरतलब है कि गुरुवार 18 अप्रैल को देश में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए 12 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश की 95 लोकसभा सीटों पर मतदान संपन्न हो गया है।

इस चरण में कुल 61.12% मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। चुनाव आयोग द्वारा प्राप्‍त सूचना के अनुसार, असम में 73.32%, बिहार में 58.14 फीसदी, छत्तीसगढ़ में 68.70%, जम्‍मू-कश्‍मीर में 43.37%, कर्नाटक में 61.80%, महाराष्‍ट्र में 55.37%, मणिपुर में 74.69%, ओडिशा में 57.41%, पुद्दुचेरी में 72.40%, तमिलनाडु में 61.52%, उत्तर प्रदेश में 58.12% और पश्चिम बंगाल में 75.27 फीसदी वोटिंग हुई। msm

 

टैग्स

कमेंट्स