Sep १२, २०१९ ०३:१४ Asia/Kolkata
  • जनता की ओर से कंट्रोल लाइन पार करने के लिए बहुत अधिक दबाव है

पाकिस्तान नियंत्रित कश्मीर के प्रधानमंत्री राजा फ़ारूक़ हैदर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जनता की ओर से कंट्रोल लाइन पार करने के लिए बहुत अधिक दबाव है।

इस्लामाबाद में बुधवार को मीडिया से बात करते हुए राजा फ़ारूक़ हैदर ने कहा कि भारत नियंत्रित कश्मीर में कर्फ़्यू और भारतीय अत्याचार का आज 39वां दिन है और इस बारे में आज हुर्रियत कान्फ़्रेन्स के प्रतिनिधियों सहित आज़ाद कश्मीर के राजनैतिक नेतृत्व ने विस्तार से चर्चा की कि कश्मीरियों की कैसे मदद की जाए।

उन्होंने कहा कि आज़ाद कश्मीर के प्रधानमंत्री की हैसियत से मुझ पर दबाव पड़ा है कि लाइन आफ़ कंट्रोल को पार करने के लिए आज़ाद कश्मीर के सभी निवासी अपने कश्मीरी भाइयों की मदद के लिए बेताब हैं।

ज्ञात रहे कि पाकिस्तान में पाकिस्तान नियंत्रित कश्मीर को आज़ाद कश्मीर और भारत नियंत्रित कश्मीर को अवैध अधिकृत कश्मीरी कहा जाता है।

राजा फ़ारूक़ हैदर ने कहा कि कुछ स्थानों पर सीज़ फ़ायर लाइन पार करने या क़रीब जाने की कोशिश की गई लेकिन भारतीय सेना की फ़ायरिंग से हमारे कुछ युवा घायल हुए और मैं अपने युवाओं के हौसले को सलाम करता हूं।

उन्होंने कहा कि हमने फ़ैसला किया है कि सभी राजनैतिक दलों के नेता दोबारा बैठेंगे और जितनी जल्दी हो सका हम फ़ैसला करे अपनी राय का एलान कर देंगे।

टैग्स

कमेंट्स