• वर्तमान युग को पहचानना ज़रूरी हैः वरिष्ठ नेता

ईरान की इस्लामिक क्रांति के वरिष्ठ नेता ने यूरोप में रहने वाले प्रवासी ईरानी छात्रों के नाम अपने संदेश में कहा है कि युवा छात्रों को वर्तमान युग की परिस्थितियों और घटनाओं के पहचानना चाहिए और उसके लिए तैयार रहना चाहिए।

प्राप्त समाचार के अनुसार ईरान की इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता अयातुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामनेई ने यूरोप में प्रवासी ईरानी छात्रों की इस्लामिक यूनियनों के 52वें सम्मेलन में अपने संदेश में कहा है कि "ऐ मेरे प्रिय युवा छात्रों वर्तमान युग, और इस युग में घटने वाली घटनाएं, आप छात्रों से ऐसी अपेक्षाएं रखती हैं कि जिसकी उम्मीदें अतीत में नहीं रखी जाती थी या उनको अतीत में समझा ही नहीं गया"

वरिष्ठ नेता ने अपने संदेश में कहा है कि युवा छात्रों को चाहिए कि इस दौर में घटने वाली सभी घटनाओं पर पूरी नज़र रखें और उसको सही तरीक़े से पहचानें, ताकि उन परिस्थितियों से निपटने के लिए स्वयं को तैयार रख सकें। वरिष्ठ नेता ने कहा कि छात्रों की इस्लामिक यूनियन और इस्लामी वातावरण, इस युग के युवाओं को वर्तमान समय में घटने वाली घटनाओं और परिस्थितियों को समझने और उसके लिए तैयारी करने में सहायक होंगे।  

शनिवार की सुबह वियना में इमाम अली इस्लामिक सेंटर में पढ़े गए वरिष्ठ नेता के संदेश में अयातुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामनेई ने प्रवासी ईरानी छात्रों को पत्र के माध्यम से संबोधित करते हुए इस बात पर बल दिया है कि "ऐ मेरे प्रिय युवा छात्रों आपको चाहिए कि अपने सभी काम ईश्वर की प्रसन्ता के लिए करें और जो भी काम करें उसको पूरी लगन से पूरा करें"।

वरिष्ठ नेता ने अपने संदेश के अंत में लिखा है कि आप में से जिस किसी को यह अवसर प्राप्त होता है तो ईश्वर भी मार्गदर्शन के साथ-साथ आपकी सहायाता करेगा, मैं भी आप सभी की सफलता और समृद्धि के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूं। (RZ)

 

Jan २७, २०१८ १८:५९ Asia/Kolkata
कमेंट्स