• ईरान के विरुद्ध नैटो का घिसापिटा बयान

नैटो ने ईरान के प्रतिरक्षा कार्यक्रम पर उंगली उठाते हुए ईरानी विरोधी बयान दोहराया है

नैटो के सदस्यों ने अपने बयान में ईरान के मिसाइल परीक्षण पर चिंता व्यक्त की है।  इस बयान में दावा किया गया है कि ईरान की रक्षात्मक कार्यवाहियां, मध्यपूर्व की अस्थिरता का कारण हैं।  नैटो के बयान में ईरान से मांग की गई है कि वह इस्राईल के विरुद्ध प्रतिरोध का समर्थन बंद करे।  अपने बयान में नैटो के सदस्यों ने ईरान से यह भी मांग की है कि वह अपनी रक्षा की कार्यवाहियों को बंद कर दे।

नैटो की ओर से ईरान के शांतिपूर्ण परमाणु कार्यक्रम के संबन्ध में शंकाएं एेसी स्थिति में उत्पन्न की जा रही हैं कि जब अन्तर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेन्सी आईएईए अपनी हर रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि करती आई है कि ईरान का परमाणु कार्यक्रम शांतिपूर्ण है और वह परमाणु समझौते के प्रति कटिबद्ध रहा है।

Jul १२, २०१८ १८:२० Asia/Kolkata
कमेंट्स