• मोहर्रम की 9 तारीख़ को ईरान समेत दुनिया भर में अज़ादारी और शोक सभाओं का आयोजन

मोहर्रम की 9 तारीख़ या तासूआ के दिन ईरान समेत दुनिया भर में इमाम हुसैन (अ) से मोहब्बत रखने वाले कर्बला के शहीदों का मातम मना रहे हैं।

ईरान में बुधवार 19 सितम्बर को मोहर्रम की 9वीं तारीख़ है, जिसे तासूआ-ए-हुसैनी के नाम से जाना जाता है।

इमाम हुसैन के चाहने वाले हर साल मोहर्रम के महीने में अपने मज़लूम इमाम और उनके साथियों की अन्यायपूर्ण शहादत का ग़म मनाते हैं, लेकिन इस महीने की 9 और 10 तारीख़ों में विशेष शोक सभाओं का आयोजन करते हैं और मातमी जुलूस निकालते हैं।

इस्लामी कैंलेंडर के मुताबिक़, 10 मोर्रम सन् 61 हिजरी बराबर 13 अक्तूबर सन् 680 को कर्बला की महान घटना घटी थी, जहां इमाम हुसैन (अ) और उनके 71 साथी तीन दिन की भूख और प्यास में इस्लाम एवं मानवता की रक्षा के लिए लड़ते हुए शहीद हो गए थे।

शिया मुसलमानों के तीसरे इमाम हुसैन इब्ने अली (अ) पैग़म्बरे इस्लाम (स) के नवासे और हज़रत अली (अ) के बेटे थे। msm

 

Sep १९, २०१८ १०:१८ Asia/Kolkata
कमेंट्स