Feb १५, २०१९ २०:५१ Asia/Kolkata
  • अमेरिका के कड़े विरोध के बावजूद  ईरान यूएन के शांति आयोग का सदस्य निर्वाचित

इस्लामी गणतंत्र ईरान, अमेरिका के कड़े विरोध के बावजूद संयुक्त राष्ट्र संघ के शांति आयोग का सदस्य चुन लिया गया है।

समाचार एजेंसी इर्ना की रिपोर्ट के मुताबिक़, संयुक्त राष्ट्र संघ के आर्थिक एवं सामाजिक परिषद के सदस्य देशों ने अमेरिका के कड़े विरोध के बावजूद दुनिया की सबसे बड़ी संस्था के शांति आयोग में ईरान की सदस्यता को मंज़ूरी दे दी है। पिछले दिनों संयुक्त राष्ट्र संघ के मुख्यालय में आर्थिक एंव समाजिक परिषद की बैठक में ईरान की सदस्यता को लेकर वोटिंग हुई, जिसमें ईरान ने कुल 46 वोटों में 35 मत प्राप्त करके अमेरिका के अरमानों पर पानी फेर दिया।

संयुक्त राष्ट्र संघ के शांति आयोग में सदस्यता की अवधि दो वर्ष होगी। आर्थिक एवं समाजिक परिषद की बैठक में शामिल अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल ने भरपूर प्रयास किया कि किसी भी तरह ईरान शांति आयोग का सदस्य न बन पाए। इसी परिप्रेक्ष्य में अमेरिका ने यह भी मांग की कि शांति आयोग की सदस्यता के लिए होने वाली वोटिंग को ख़ुफ़िया रखा जाए। लेकिन आर्थिक एवं समाजिक आयोग के अधिकतर सदस्यों ने खुले तौर पर ईरान का समर्थन करके अमेरिका की सभी योजनाओं को विफल बना दिया।

उल्लेखनीय है कि संयुक्त राष्ट्र संघ का शांति आयोग एक ऐसा संगठन है जिसका उद्देश्य दुनिया के विभिन्न देशों में उत्पन्न होने वाले आंतरिक टकराव एवं हिंसा का रोकथाम करना और उस देश में सुरक्षा एंव शांति की स्थापना में सहायता करना है। (RZ)

टैग्स

कमेंट्स