Mar २१, २०१९ २०:५२ Asia/Kolkata
  • अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, मुसलमानों के अपमान का बहानाः ज़रीफ़

जवाद ज़रीफ़ का कहना है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की आड़ में पश्चिम, मुसलमानों का अपमान करता है।

ईरान के विदेशमंत्री जवाद ज़रीफ़ ने कहा है कि वे लोग जो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का दावा करते हैं वे इसी की आड़ में मुसलमानों का हर प्रकार से अपमान करते रहते हैं।  जवाद ज़रीफ़ ने तुर्की में एक संवाददाता सम्मेलन में न्यूज़ीलैण्ड की आतंकवादी घटना की कड़े शब्दों में निंदा की।  उन्होंने इसे बहुत ही ख़तरनाक घटना बताया।  जवाद ज़रीफ़ ने कहा कि पश्चिम के बहुत से अधिकारी और वहां की संस्थाएं, इस ख़तरनाक घटना पर मौन धारण करके एक प्रकार से इस जघन्य अपराध में शामिल हैं।  उन्होंने कहा कि न्यूज़ीलैण्ड की घटना वास्वत में इस्लामोफ़ोबिया का परिणाम है।

ईरानी विदेशमंत्री ज़रीफ ने कहा कि तुर्की में होने वाले ओआईसी के सम्मेलन में, जिसमें न्यूज़ीलैण्ड के विदेशमंत्री भी भाग लेंगे, इस्लामी देशों के विदेशमंत्रियों का इरादा है कि न्यूज़ीलैण्ड की घटना की कड़े शब्दों में निंदा के साथ ही इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए प्रयास किये जाएं।

ज्ञात रहे कि ओआईसी के विदेशमंत्रियों का एक दिवसीय सम्मेलन शुक्रवार को तुर्की के इस्तांबूल नगर में होगा जिसका शीर्षक है, "न्यूज़ीलैण्ड की आतंकी घटना।

टैग्स

कमेंट्स