Mar २६, २०१९ १७:४९ Asia/Kolkata
  • गोलान हाइट्स को ज़ायोनी शासन के हवाले किया जाना साम्राज्यवादी फैसलाः रूहानी

राष्ट्रपति ने ट्रम्प द्वारा गोलान हाइट्स को ज़ायोनी शासन के हवाले किये जाने को साम्राज्यवादी कार्यवाही बताया है।

डाक्टर हसन रूहानी ने ट्रम्प द्वारा एकपक्षीय रूप में गोलान हाइट्स को अवैध ज़ायोनी शासन के हवाले करने के फैसले की आलोचना करते हुए इसे साम्राज्यवादी कार्यवाही बताया।  उन्होंने कहा कि ट्रम्प ने अन्तर्राष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन करते हुए एक देश से संबन्धित भूमि को अवैध शासन के हवाले कर दिया।

ईरान के राष्ट्रपति ने कहा कि उस काल में जब संसार के बहुत से देशों पर साम्राज्यवादी शक्तियों का वर्चस्व था, कुछ वर्चस्ववादी शक्तियां इसी प्रकार की कार्यवाहियां करती रहती थीं किंतु हालिया वर्षों में ऐसा होते नहीं देखा गया।  यह वास्तव में अभूतपूर्व काम है।

ज्ञात रहे कि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने 25 मार्च 2019 को वाशिंग्टन में ज़ायोनी प्रधानमंत्री नेतनयाहू के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में सीरिया में स्थिति गोलान हाइट्स को अवैध ज़ायोनी शासन के भाग के रूप में औपचारिकता देदी।  ट्रम्प के इस निर्णय की अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर निंदा की जा रही है।  कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों ने इसे अस्वीकार्य बताया है।

टैग्स

कमेंट्स