पिछले शुक्रवार को भी सीरिया ने इस्राईल के एक युद्धक विमान को मार गिराया था

सीरिया की सेना ने एक इस्राईली जासूसी ड्रोन को मार गिराया है। सीरिया से प्राप्त समाचारों के अनुसार इस्राईल का जासूसी ड्रोन सीरिया की वायु सीमा में घुस कर जासूसी कर रहा था कि सीरियाई सेना ने इस देश के दक्षिण में स्थित क़ुनैतरा क्षेत्र में उसे मार गिराया परंतु जायोनी अधिकारियों ने अभी तक इस पर कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की है।

इससे पहले सीरिया की सशस्त्र सेना प्रमुख ने बल देकर कहा था कि इस प्रकार की कार्यवाही की पुनरावृत्ति की स्थिति में हर संभव संसाधन से इसका सीधा उत्तर दिया जायेगा। साथ ही उन्होंने जायोनी शासन के हर प्रकार के अतिक्रमण के जवाब पर बल दिया।

पिछले शुक्रवार को भी जायोनी शासन के चार युद्धक विमानों ने लेबनान के मार्ग से इस देश की वायु सीमा का उल्लंघन करते हुए सीरिया के अरबरीज क्षेत्र में एक सैनिक केन्द्र पर हमला किया था।

सीरियाई सेना की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार जायोनी युद्धक विमानों को सीरियाई एंटी एअर क्राफ्ट का सामना हुआ और उसमें से एक को अवैध अधिकृत क्षेत्र में मार गिराया गया जबकि शेष भागने पर विवश हो गये।

राजनीतिक और सैनिक मामलों के विशेषज्ञों का कहना है कि ईरान, रूस और हिज्बुल्लाह के समर्थन से हालिया महीनों में आतंकवादियों से मुकाबले में सीरियाई सेना को जो सफलाएं मिली हैं उसके कारण उसका मनोबल बहुत ऊंचा हो गया है और इस समर्थन ने उसमें बहुत आशा उत्पन्न कर दी है। MM

 

Mar २१, २०१७ ०९:०८ Asia/Kolkata
कमेंट्स