रूस के रक्षामंत्री सर्गेई शोइगो ने मंगलवार को सीरिया के राष्ट्रपति बश्शार असद से मुलाक़ात की।

रूस के रक्षामंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सीरिया के राष्ट्रपति बश्शार असद और रूसी रक्षामंत्री के बीच सीरिया की वर्तमान स्थिति, तनाव कम करने वाले क्षेत्रों और इसी प्रकार इन क्षेत्रों के निवासियों की सहायता के बारे में चर्चा की गयी।

इस मुलाक़ात में इसी प्रकार रूसी राष्ट्रपति विलादीमीर पुतीन का पत्र बश्शार असद को दिया गया जिसमें सेना द्वारा दैरिज़्ज़ूर  के परिवेष्टन को तोड़ने और सेना की हालिया सफलता पर बश्शार असद और जनता को बधाई दी गयी ।

सीरिया में रूसी सेना की कमान्डर की रिपोर्ट के आधार पर बश्शार असद की सरकार ने देश के 85 प्रतिशत भाग को दाइश और अन्य आतंकवादी गुटों के नियंत्रण से स्वतंत्र करा लिया है। उनका यह बयान एेसे समय में सामने आया है

दूसरी ओर हाल ही में रूस की वायु सेना के कमान्डर जनरल सर्गेई मशरयाकोफ़ ने रूसी - सीरियाई एयर डिफ़ेंस सिस्टम की स्थापना की सूचना दी है। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि दोनों देश के सैनिक समस्त हवाई लक्ष्यों का पता लगाने के लिए इन सिस्टम का प्रयोग करेंगे।

उनका यह बयान एेसे समय में सामने आया है कि जब रूसी रक्षामंत्रालय ने मंगलवार को एक बयान में कहा था कि सीरिया के हमा प्रांत में दाइश के 180 ठिकाने तबाह कर दिए और अक़ीरबात में दाइश की सभी सप्लाई लाइनें काट दी गयी हैं।

रूस ने 30 सितंबर 2015 से सीरिया की सेना की सहायता के उद्देश्य से आतंकवादी और छापामार गुटों के विरुद्ध कार्यवाही की थी। रूस की सेना ने कैस्पियन सागर में स्थित युद्धक बेड़े से 1500 किलोमीटर की दूरी पर स्थित दाइश के ठिकाने पर 26 से अधिक क्रूज़ मीज़ाइल मारे थे।

रूस ने सीरिया संकट के आरंभ से ही राजनैतिक, वित्तीय और सामरिक सहित विभिन्न सहायता करके बश्शार असद की सरकार को गिराने के समस्त प्रयासों पर पानी फेर दिया। इसके बाद से मानो एक प्रकार से काम विभाजित हो गया, सीरिया की सेना और उसके घटक बल ज़मीनी कार्यवाही करते हैं और रूस के युद्धक विमान दाइश के ठिकानों पर हवाई हमले करते हैं। (AK)

Sep १३, २०१७ १५:०७ Asia/Kolkata
कमेंट्स