• सऊदी नरेश और युवराज के ख़िलाफ़ फ़िलिस्तीनियों का ज़ोरदार प्रदर्शन, पुतला फूंका

अवैध अधिकृत फ़िलिस्तीन में आले सऊद शासन के ख़िलाफ़ फ़िलिस्तीन की जनता ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया और साथ ही सऊदी नरेश और उनके पुत्र व युवाराज की फ़ोटो को जलाया।

समाचार पत्र “फ़िलीस्तीन अलयौम” की रिपोर्ट के अनुसार अवैध अधिकृत फ़िलिस्तीन में हज़ारों की संख्या में एकत्रित हुए प्रदर्शनकारियों ने फ़िलिस्तीन के बारे में सऊदी नरेश और युवराज द्वारा फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के साथ किए जा रहे विश्वासघात की कड़ी निंदा की। प्रदर्शनकारियों ने सऊदी अरब के शासक सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ और उनके बेटे तथा इस देश के युवराज मोहम्मद बिन सलमान की तस्वीरों को आग लगा दी।

फ़िलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों ने सऊदी नरेश और युवराज को विश्वासघाती करार देते हुए कहा है कि सऊदी अरब के शासक ने फ़िलिस्तीन के बारे में हमेशा पाखंडी व्यवहार किया और उन्होंने फिलिस्तीनी जनता और राष्ट्र के मुक़ाबले में सैदव अमेरिका और इस्राईल का समर्थन किया है।

फिलिस्तीनी समाचार सूत्रों का कहना है कि आजतक जो भी अत्याचार ज़ायोनी शासन की ओर से फ़िलिस्तीनी जनता पर हुए हैं उसमें परोक्ष या अपरोक्ष तौर पर सऊदी अरब हमेशा इस्राईल के साथ खड़ा दिखाई दिया है।

उल्लेखनीय है कि अरब और इस्राईली सूत्रों ने इससे पहले घोषणा की थी कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने बैतुल मुक़द्दस को ज़ायोनी शासन की राजधानी घोषित करने से पहले सऊदी नरेश सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ और सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान तथा मिस्र के राष्ट्रपति अब्दुल फ़त्ताह सीसी और संयुक्त अरब अमीरात के शासक से विचार विमर्श किया था।

अरब सूत्रों के मुताबिक जहां एक ओर दुनिया भर में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प के फ़ैसले के ख़िलाफ़ व्यापक प्रदर्शन हो रहे हैं वहीं सऊदी अरब में अमेरिका और इस्राईल के विरुद्ध प्रदर्शन तो दूर की बात यहां तक वहां पर उनके विरुद्ध नारा लगाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। (RZ)

 

Dec ११, २०१७ १६:२५ Asia/Kolkata
कमेंट्स