• फ़िलिस्तीनी बच्चे को इस्राईली अदालत ने सुनाई चार महीने की सज़ा

अतिग्रहणकारी ज़ायोनी शासन की आपराधिक न्याय अदालत ने सबसे कम उम्र के फ़िलिस्तीनी क़ैदी बच्चे को चार महीने की जेल की सज़ा देने के साथ-साथ नक़द जुर्माना लगाया है।

फ़ार्स समाचार न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार ज़ायोनी शासन की आपराधिक अदालत ने फ़िलिस्तीनी बच्चे अब्दुल रऊफ़ के मामले में चल रही सुनवाई कई बार टाले जाने के बाद मंगलवार को फ़िलीस्तीनी बच्चे को चार महीने के कठोर कारावास की सज़ा सुनाई है। फ़िलिस्तीनी सूत्रों के मुताबिक़, फ़िलिस्तीनी बच्चे को दिसंबर 2017 में पश्चिमी जॉर्डन के नाबलुस क्षेत्र में शांतिपूर्ण प्रदर्शन के दौरान गिरफ़्तार कर लिया था।

13 वर्षीय अब्दुल रऊफ़ के दो अन्य भाइयों को भी इस्राईली सैनिकों ने गिरफ़्तार कर लिया था। रऊफ़ का एक भाई अभी भी ज़ायोनी शासन की जेल में क़ैद है।

उल्लेखनीय है कि अतिग्रणकारी ज़ायोनी शासन अंतर्राष्ट्रीय कानूनों का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन करते हुए छोटी-छोटी उम्र के बच्चों को गिरफ़्तार करके अपनी जेलों में उनको तरह-तरह की यातनाएं दे रहा है। (RZ)

 

टैग्स

Jan २३, २०१८ २०:०० Asia/Kolkata
कमेंट्स