Dec १८, २०१८ १७:२३ Asia/Kolkata
  • 17 दिसंबर 2018 को तुर्की के कोन्या में तुर्क राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए (रोयटर्ज़ के सौजन्य से)
    17 दिसंबर 2018 को तुर्की के कोन्या में तुर्क राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए (रोयटर्ज़ के सौजन्य से)

तुर्क राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान ने कहा है कि देश की सेना सीरिया में अमरीका समर्थित कुर्द मिलिटेंट्स के ख़िलाफ़ नई कार्यवाही शुरु कर सकती है।

अर्दोग़ान ने सोमवार को देश के केन्द्रीय प्रांत कोन्या में एक भाषण के दौरान कहा कि सेना ने फ़ुरात नदी के पूर्वी क्षेत्र में सुनियोजित कार्यवाही की तय्यारी पूरी कर ली है। पूर्वी फ़ुरात का क्षेत्र वाईपीजी गुट के नियंत्रण में है जिसे तुर्की, आतंकवादी गुट समझता है जो प्रतिबंधित कुर्दिस्तान वर्कर्ज़ पार्टी का विस्तार है जो 1984 से तुर्की के भीतर एक स्वायत्त क्षेत्र के लिए लड़ रहे हैं।

तुर्क राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहाः "हम 500 किलोमीटर सीमा से मिले सीरिया के भीतर किसी भी समय कार्यवाही शुरु कर सकते हैं, जिसमें अमरीकी सैनिकों को कोई नुक़सान नहीं पहुंचेगा।"

तुर्क राष्ट्रपति ने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने अंकारा की फ़ुरात नदी के पूर्वी क्षेत्र में कार्यवाही की योजना का समर्थन किया है।

अर्दोग़ान ने कहाः "हमने ट्रम्प से बात की। इन आतंकियों को फ़ुरात का पूर्वी क्षेत्र छोड़ना होगा। अगर वे नहीं छोड़ेंगे तो हम उनका सफ़ाया कर देंगे। क्योंकि वे हमें परेशान करते हैं।" (MAQ/N)

कमेंट्स