Dec १८, २०१८ १९:०९ Asia/Kolkata
  • लेबनानी सैनिकों ने इस्राईली सैनिकों को नीली रेखा तक पीछे ढकेला

लेबनान की सेना ने देश के दक्षिणी भाग में स्थित मेस जबल इलाक़े में अतिग्रहणकारी ज़ायोनी सेना को नीली रेखा तक पीछे हटने पर मजबूर कर दिया।

अलअहद के अनुसार, लेबनानी सैनिकों ने ज़ायोनी शासन द्वारा अतिग्रहित भूमि से मिली लेबनान की संयुक्त सीमा पर कांटेदार तार के मार्ग को नहीं बदलने दिया।

इस बीच रिपोर्ट के अनुसार, ज़ायोनी सैनिकों ने मेस जबल में ज़मीनों को नुक़सान पहुंचाने और खुदाई की कार्यवाही रोक दी और बुलडोज़रों को कांटेदार तार के पीछे तक हटा ले गए हैं।

ग़ौरतलब है कि नीली रेखा लेबनान और अतिग्रहित फ़िलिस्तीन के बीच सीमा है। यह नीली रेखा संयुक्त राष्ट्र संघ ने, वर्ष 2000 में ज़ायोनी शासन के दक्षिणी लेबनान से पीछे हटने और इस क्षेत्र के 22 साल तक अतिग्रहण के ख़त्म होने पर खींची थी।

ज़ायोनी शासन ने 4 दिसंबर को उन सुरंगों को तबाह करने के लिए कार्यवाही शुरु की जिसके बारे में उसका दावा था कि उन्हें लेबनान के हिज़्बुल्लाह संगठन ने बनायी थी। इसी के साथ लेबनानी सेना ने भी देश की दक्षिणी सीमाओं पर ज़ायोनी शासन की गतिविधियों से निपटने के लिए अपनी तय्यारी का एलान किया था। (MAQ/N)

टैग्स

कमेंट्स