Mar २५, २०१९ १६:३८ Asia/Kolkata
  • अर्दोग़ान ने अतिग्रहित गोलान हाइट्स को इस्राईल के चंगुल से बचाने की क़सम खायी

तुर्क राष्ट्रपति ने अतिग्रहित गोलान हाइट्स के मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र संघ में उठाने का संकल्प लिया है।

रजब तय्यब अर्दोग़ान ने सीरिया के अतिग्रहित गोलान हाइट्स इलाक़े पर ज़ायोनी शासन के दावे के विषय को संयुक्त राष्ट्र संघ में उठाने का संकल्प लिया है, क्योंकि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने सीरिया के इस इलाक़े पर तेल अविव की संप्रभुता को मान्यता देने का एलान किया है।

अर्दोग़ान ने रविवार को टीजीआरटी हबर टीवी चैनल से इंटरव्यू में यह बात कही।

उन्होंने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प का गोलान हाइट्स के बारे में बयान, अतिग्रहित फ़िलिस्तीन में 9 अप्रैल को चुनाव से पहले इस्राईली प्रधान मंत्री नेतनयाहू के लिए तोहफ़ा है।

नेतनयाहू गोलान हाइट्स पर इस्राईल की संप्रभुता के लिए लंबे समय से लगे हुए थे। बहुत से पर्यवेक्षक अर्दोग़ान के इस विचार से सहमत हैं कि 9 अप्रैल को अतिग्रहित फ़िलिस्तीन में लेजिस्लेटिव चुनाव से पहले ट्रम्प का गोलान हाइट्स के बारे में एलान, चुनावी अभियान का तोहफ़ा है।

इस्राईली प्रधान मंत्री नेतनयाहू को चुनाव में कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना है क्योंकि उनके सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी अतिग्रहित फ़िलिस्तीन में अधिक लोकप्रिय हैं और नेतनयाहू से भ्रष्टाचार के इल्ज़ाम की वजह से इस्तीफ़ा देने की मांग भी तेज़ हो गयी है जिससे उनका राजनैतिक भविष्य ख़त्म हो सकता है।

गुरुवार को ट्रम्प ने सीरिया के गोलान हाइट्स इलाक़े पर ज़ायोनी शासन की संप्रभुता को मान्यता देने का एलान कर अमरीका की नीति में भारी बदलाव का संकेत दिया।

तुर्क राष्ट्रपति ने इस्लामी सहयोग संगठन की शुक्रवार को इस्तांबोल में बैठक में कहा था कि गोलान हाइट्स के अतिग्रहण को वैधता नहीं मिलने देंगे।

उन्होंने उसी दिन तुर्की के केन्द्रीय प्रांत कोनया में एक रैली में कहाः "संयुक्त राष्ट्र संघ के प्रस्ताव के अनुसार, इस्राईल गोलान हाइट्स के छोटे से टुकड़े पर भी दावा नहीं कर सकता।"

तुर्क राष्ट्रपति का यह बयान ऐसे समय आया है कि ज़ायोनी विदेश मंत्री इस्राईल काट्ज़ के अनुसार, ट्रम्प अतिग्रहित गोलान हाइट्स पर इस्रईल की संप्रभुता को मान्यता देने वाले आदेश पर दस्तख़त करने वाले हैं।

काट्ज़ ने रविवार को अपने ट्वीट में कहा कि ट्रम्प नेतनयाहू से सोमवार को वॉशिंग्टन में मुलाक़ात में यह आदेश जारी करेंगे। (MAQ/N)

 

कमेंट्स