अमरीका के सातवें बेड़े के कमान्डर का कहना है कि डिस्ट्रायर यूएसएस फिट्जगेराल्ड डूबने या तबाह होने की कगार पर है।

तसनीम न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के आधार पर अमरीकी नौ सेना के सातवें बेड़े के कमान्डर जोज़फ़ अकवीन ने रविवार को अपने एक बयान में कहा कि यूएसएस फीट्ज जेराल्ड को फ़िलीपींस के एक व्यापारिक जहाज से टकराने के बाद भारी नुक़सान उठाना पड़ा जो डूबने की कगार पर है। उनका कहना था कि टकराव से युद्धपोत के निचले भाग में एक बड़ा सा छेद हो गया है जिसके कारण यह युद्धपोत डूब जाएगा या तबाह हो जाएगा।

अमरीका के इस कमान्डर का कहना था कि टक्कर के बाद युद्धपोत को बहुत नुक़सान पहुंचा है जिसके कारण एक बड़ा सूराख़ हो गया। उनका कहना था कि नुक़सान को पूरा करने के लिए सेना पूरी कोशिश कर रही है ताकि युद्धपोत को डूबने से बचाया जा सके।

इस घटना में नौसेना के सात जवान लापता हो गये तथा दो घायल हो गये थे। घायलों को जापान की मदद से अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लापता नौसैनिकों के शव तैरते हुए मिल गये हैं। 

यूएसएस फिट्जगेराल्ड योकोसुका से 56 नौटिकल मील दक्षिण-पश्चिम में फिलीपींस के एक व्यापारिक जहाज से टकरा गया।

इससे पहले युद्धपोत क्षतिग्रस्त हो गया है और कुछ जगहों से पानी जहाज के अंदर आ रहा है। इससे पहले नौसेना के एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया था कि जहाज में सवार कुछ लोगों को चोट लगी है।

अमेरिकी नौसेना ने कहा कि दुर्घटना के बाद हमने जापानी तटरक्षक बल से सहायता मांगी है। इस दौरान व्यापारिक जहाज के बीच टक्कर में घायल हुए जहाज के दो कर्मियों को जापानी तटरक्षक बल के हेलिकॉप्टर की मदद से जहाज से सुरक्षित बाहर निकाला  गया और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

ज्ञात रहे कि अत्याधुनिक तकनीक से लैस अमरीका के इस युद्धपोत का यह हाल फ़िलीपीन्स के एक साधारण से मालवाहक जहाज़ से टकराने के बाद हुआ है। (AK)

Jun १८, २०१७ १९:२१ Asia/Kolkata
कमेंट्स