• पाकिस्तान, राजनैतिक उथल पुथल के बीच पूर्व प्रधानमंत्री का कारवां लाहौर की ओर रवाना

पाकिस्तान के सुप्रिम कोर्ट की ओर से अयोग्य घोषित होने के बाद प्रधानमंत्री के पद से त्यागपत्र देने वाले नवाज़ शरीफ़ इस्लामाबाद से लाहौर की ओर रवाना हैं।

नवाज़ शरीफ़ की रैली के दृष्टिगत रावलपिंडी के विभिन्न मार्गों को बंद कर दिया गया है जबकि होटल, माल्ज़ और दुकानें बंद होने के कारण नागरिकों को समस्याओं का सामना है। पुलिस के अनुसार पांच से छह हज़ार लोग जबकि 700 से 800 सरकारी और निजी गाड़ियां क़ाफ़ले में शामिल हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ इस्लामाबाद में स्थित पंजाब हाऊस के अक़बा दरवाज़े से सुबह 11 बजे के बाद रवाना हुए थे जिस पर केन्द्रीय दरवाज़े पर उन्हें विदा देने के लिए आने वाले कार्यकर्ताओं ने निराशा व्यक्त की।

पंजाब हाऊस से रवाना होने से पूर्व पत्रकारों से बात करते हुए नवाज़ शरीफ़ का कहना था कि शहबाज़ शरीफ़ पंजाब की जान और पाकिस्तान की शान हैं, उन्होंने पंजाब को दूसरे प्रांतों के लिए रोल माॅडल बनाया।

उनका कहना था कि यह पावर शो नहीं बल्कि मुझे अपनी सेन्चुरी पूरी करनी है, मैं कहीं नहीं जा रहा। नवाज़ शरीफ़ के गाड़ी में सवार होने से पहले प्रधानमंत्री शाहिद ख़ाकान अब्बासी ने नवाज़ शरीफ़ को गले लगाकर अलविदा कहा।

इससे पहले पंजाब हाऊस में पाकिस्तान मुस्लिम लीग एन की परामर्श बैठक हुई जिस में लीग नेताओं ने रैली के मार्ग के बारे में विचार विमर्श किया। (AK)

टैग्स

Aug ०९, २०१७ २१:२९ Asia/Kolkata
कमेंट्स