• पुतिन ने दुनिया के लिए परमाणु हथियारों से भी घातक तकनीक से उठाया पर्दा

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने परमाणु हथियारों से भी घातक एक नई तकनीक का रहस्योद्घाटन किया है।

पुतिन ने कहा है कि जेनेटिक इंजीनियरिंग और पूर्व योजना के अनुसार निर्धारित उद्देश्यों के लिए इंसानों का जन्म, परमाणु बम और परमाणु हथियारों से भी ख़तरनाक एवं घातक हो सकते हैं।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, रूसी राष्ट्रपति पुतिन का मानना है कि निकट भविष्य में जेनेटिक रूप से पूर्व योजना के अनुसार, निर्धारित उद्देश्य के लिए इंसानों को जन्म दिया जाएगा।

रूस के शहर सोची में आयोजित युवाओं और छात्रों के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए पुतन ने कहा कि इस तरह के इंसान, दुनिया और मानवता के लिए परमाणु हथियारों से भी ख़तरनाक होंगे।

उन्होंने उल्लेख किया कि जेनेटिक इंजीनियरिंग ने औषधि विज्ञान (pharmacology) और मानव कोड में परिवर्तन करके आश्चर्यचकित संभावनाओं को उत्पन्न किया है।

व्लादिमिर पुतिन का कहना था कि यह एक सच्चाई है कि शीघ्र ही पूर्वनियोजित इंसान दुनिया में जन्म लेंगे। इस प्रकार एक ऐसे व्यक्ति को जन्म दिया जा सकेगा जो केवल एक गणितज्ञ होगा, एक बेहतरीन संगीतकार बन सकेगा या वह एक ऐसा सैनिक होगा जो किसी भय, डर, भावना और रहम के युद्ध कर सकेगा और रक्तपात करेगा।

पुतिन का कहना था कि इससे आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि मनुष्य कितने कठिन चरण में प्रवेश कर रहा है, इस बारे में मैं इससे ज़्यादा कुछ नहीं कह सकता कि यह समस्या परमाणु हथियारों से भी अधिक घातक होगी।

उन्होंने कहा कि ज़रूरत इस बात की है कि विज्ञान और तकनीक के विकास में भी इंसानी मूल्यों और नैतिकता को भूला नहीं जाए, इसलिए कि अगर ऐसा होगा तो इससे मानवता ही ख़तरे में पड़ जाएगी। msm

 

Oct २२, २०१७ १५:४२ Asia/Kolkata
कमेंट्स