• शांति कमेटी के रूप में तालेबान की वापसी, जारी किए कठोर आदेश

पाकिस्तान के दक्षिणी वज़ीरिस्तान के इलाक़े वाना में शांति कमेटी के रूप में तालेबान की वापसी का मामला सामने आया है।

पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार वाना में शांति कमेटी ने सांस्कृतिक और सामाजिक गतिविधियों पर रोक लगा दी है और साथ ही आदेश जारी किया है कि महिलाएं अपने परिवार के मर्दों के बग़ैर घर से बाहर न निकलें।

सूत्रों का कहना है कि वाना टाउन में तथाकथित शांति कमेटी की ओर से पम्फ़लेट बांटे गए हैं जिसमें कड़े निर्देश दिए गए हैं और कहा गया है कि जो इन निर्देशों का पालन नहीं करेगा वह नतीजा भुगतने के लिए तैयार रहे।

शांति कमेटी ने मादक पदार्थों के प्रयोग, संगीत, शादियों में पारम्परिक नृत्य पर भी रोक लगाई है।

पम्फ़लेट में लिखा है कि महिलाओं को घर के मर्दों के बग़ैर बाज़ारों, क्लीनिक या पीरों के पास जानेकी अनुमति नहीं होगी। सूचना है कि तालेबान के प्रभावशाली कमांडर मुल्ला मुहम्मद नज़ीर का उत्तराधिकारी सलाहुद्दीन उर्फ़ अय्यूबी शांति कमेटी का अध्यक्ष चुना गया है। मुल्ला नज़ीर वर्ष 2013 में अमरीकी ड्रोन हमले में मारा गया था।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2003 में दक्षिणी वज़ीरिस्तान तालेबानीकरण का केन्द्र था जिसने अन्य इलाक़ों को भी अपने लपेट में लिया था। तालेबान संगठनों ने अपने अपने इलाक़ों में सभी मामलों का अधिकार अपने हाथ में लिया था। नेक मुहम्मद को इन सबका सरग़ना बनाया गया था जो वर्ष 2004 में एक हमले में मारा गया था।

 

Nov १५, २०१७ १२:४३ Asia/Kolkata
कमेंट्स