• चीनी तेल कंपनी ने ईरान के ख़िलाफ़ अमेरिकी प्रतिबंधों को मानने से किया इंकार

विश्व की प्रसिद्ध चीनी तेल कंपनी “सिनोपेक” ने कहा है कि वह ईरान से तेल ख़रीदना जारी रखेगी।

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार चीनी कंपनी सिनोपेक ने एक बयान जारी करके घोषणा की है कि, अमेरिका ने चीन के 34 अरब डॉलर के उत्पादों पर 25 प्रतिशत अतिरिक्त टैरिफ़ लगाना आरंभ कर दिया है, जिसकी प्रतिक्रिया में हम ईरान पर अमेरिका द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों को स्वीकार नहीं करेंगे। सिनोपेक कंपनी की ओर से जारी अधिकारिक बयान में यह भी कहा गया है कि वॉशिंग्टन द्वारा ईरान पर लगाए गए प्रतिबंध ग़ैर-क़ानूनी और एकपक्षीय हैं और बीजिंग के तेहरान से पुराने संबंध हैं इसलिए हम अपने रिश्ते को जारी रखते हुए ईरान से तेल का आयात जारी रखेंगे।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका द्वारा चीनी उत्पादों पर भारी टैरिफ़ लगाए जाने को चीनी अधिकारियों ने वैश्विक व्यापार प्रणाली के सिद्धांतों का उल्लंघन बताते हुए घोषणा की है कि अमेरिका ने अंतर्राष्ट्रीय व्यापार समझौतों का खुला उल्लंघन करते हुए इतिहास के सबसे बड़े आर्थिक युद्ध की शुरूआत की है। चीनी अधिकारियों के अनुसार वॉशिंग्टन का यह क़दम खुली गुंडागर्दी है जिससे अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार, विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय कंपनियां, सामान्य उपभोक्ता और स्वयं अमेरिकी औद्योगिक उद्यमी और वहां की जनता प्रभावित होगी। (RZ)

 

टैग्स

Jul १६, २०१८ १५:२३ Asia/Kolkata
कमेंट्स