• अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं पर वाइट हाउस के हमले जारी, आईसीसी से सहयोग करने से किया इन्कार

अमरीका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने कहा है कि उनका देश हेग स्थित अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय से सहयोग नहीं करेगा।

जाॅन बोलटन ने आईसीसी की चीफ़ प्राॅसिक्यूटर फ़ातू बेनसूदा की ओर से अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकियों के अपराधों की जांच संबंधी बयान की प्रतिक्रिया में कहा है कि हम इस अदालत से सहयोग नहीं करेंगे। बेनसूदा ने अफ़ग़ानिस्तान के बारे में संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद की बैठक में कहा था कि आईसीसी को अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकियों के अपराधों की समीक्षा करनी चाहिए। बोलटन ने सोमवार को कहा कि चूंकि अमरीका की आंतरिक न्यायिक व्यवस्था अपने नागरिकों को नैतिक व क़ानूनी दृष्टि से बहुत अधिक उत्तरदायी समझती है इस लिए अमरीका को अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय की कोई ज़रूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि अमरीकी सैनिक, युद्ध के क़ानूनों का पूरा पालन करते हुए काम करें लेकिन जब भी क़ानून का उल्लंघन होगा तो अमरीका, उल्लंघनकर्ताओं के ख़िलाफ़ समय पर उचित कार्यवाही करेगा।

 

अमरीका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने, जो अपने देश के आंतरिक क़ानूनों को अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं व क़ानूनों से इतर बताते हैं, कहा कि वाॅशिंग्टन को आईसीसी की ज़रूरत नहीं है। उल्लेखनीय है कि इस समय अमरीका के 16 हज़ार से अधिक सैनिक आतंकवाद से संघर्ष के बहाने अफ़ग़ानिस्तान में मौजूद हैं। अमरीकी सैनिकों पर अफ़ग़ानिस्तान में विभिन्न प्रकार के अपराधों विशेष कर युद्ध अपराधों के आरोप लगते रहे हैं। (HN)

टैग्स

Sep ११, २०१८ ०९:०३ Asia/Kolkata
कमेंट्स