• रूसी विमान को इस्राईल ने मार गिरायाः रूसी विशेषज्ञ

रूसी विशेषज्ञों का कहना है कि सीरिया में रूसी युद्धक विमान, एंटी एयर डिफ़ेंस सिस्टम का नहीं बल्कि इस्राईली विमान का निशाना बनकर तबाह हुआ है।

अल मयादीन टीवी चैनल ने रूसी मीडिया के हवाले से बताया है कि रूस के विदेश संबंध फ़ाउंडेशन के रक्षा और राजनैतिक रिसर्च सेन्टर के वरिष्ठ विशेषज्ञ मीख़ाइल एलेक्ज़ेंडरोफ़ ने यह सवाल उठाया है कि एस-200 मीज़ाइल डिफ़ेंस सिस्टम अपने और दुश्मनों के विमानों की पहचान की क्षमता रखता है, इस आधार पर इस सिस्टम ने रूसी विमान की ओर मीज़ाइल चलाने में रुकावट क्यों नहीं डाली?

उन्होंने कहा कि इस आधार पर रूसी विमान को इस्राईली विमान द्वारा मार गिराए जाने की संभावना बहुत अधिक प्रबल हो जाती है।

इस रिपोर्ट में आया है कि इस्राईल ने 1963 में अमरीकी जासूसी युद्धपोत को तबहा किया था और 50 वर्ष बाद स्वीकार किया। 

सीरिया में तैनात रूस के एंटी एयर डिफ़ेंस मीज़ाइल यूनिट के प्रमुख कर्नल विक्टर ख़ोस्तोफ़ ने कहा कि इस्राईली युद्धक विमानों ने रूस के बड़े विमान के गिर्द घेरा डालकर उसे अपने आप्रेशन की भेंट चढ़ाया है।

उन्होंने इस घटना को बड़ी घटना बताते हुए कहा है कि रूस को सीरिया की वायु सीमा समस्त विदेशी विमानों के लिए बंद करना होगी और उनके साथ दुश्मन जैसा रवैया अपनाना होगा।

ज्ञात रहे कि 18 सितम्बर को सीरिया के लाज़ेक़िया प्रांत में इस्राईली युद्धक विमानों के हमले के दौरान रूस का एक सैन्य ट्रांस्पोर्ट विमान गिरकर तबाह हो गया जिसमें 15 लोग मारे गये थे। (AK)

टैग्स

Sep २१, २०१८ २२:५२ Asia/Kolkata
कमेंट्स