Dec ०९, २०१८ २३:०० Asia/Kolkata
  • ‎ट्रम्प, फ़्रांसीसी जनता का पीछा छोड़ देंः फ़्रांस

फ़्रांस सरकार ने अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प को पेरिस की राजनीति में हस्तक्षेप से दूर रहने की सलाह दी है।

एएफ़पी के अनुसार डोनल्ड ट्रम्प ने पिछले दिन ट्वीट में फ़्रांस में जारी येलो वेस्ट प्रदर्शनकारियों से संबंधित विवादित बयान दिया था।

उन्होंने कहा था कि पेरिस समझौते पर अमल होता नज़र नहीं आ रहा है, पूरे फ़्रांस में प्रदर्शन हो रहे हैं।

ट्रम्प ने कहा था कि पर्यावरण की रक्षा के लिए तीसरी दुनिया पर ख़र्च की जाने वाली राशि फ़्रांसीसी जनता अदा नहीं करना चाहती और प्रदर्शनकारी नारे लगा रहे हैं कि हमें ट्रम्प चाहिए, फ़्रांस के लिए प्रेम।

उसके बाद विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय मीडिया ने पुष्टि की कि डोनल्ड ट्रम्प ने झूठ बोला कि फ़्रांस में प्रदर्शनकारी उनके नाम के नारे लगा रहे थे।

ट्रम्प के विवादित ट्वीट के परिणाम में फ़्रांसीसी विदेशमंत्री ने स्थानीय टीवी से बात करते हुए कहा कि हम अमरीकी राजनीति में हस्तक्षेप नहीं करते और कुछ इसी तरह का बर्ताव अपने लिए चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि मुझ समेत फ़्रांसीसी राष्ट्रपति भी डोनल्ड ट्रम्प से चाहते हैं कि हमारे राष्ट्र का पीछा छोड़ दें।

फ़्रांसीसी विदेशमंत्री ने कटाक्ष करते हुए सवाल किया कि पेरिस में बहुत खेदजनक दिन और रात है, शायद मंहगे और बकवास पेरिस समझौते को समाप्त करके टैक्स में कमी लाकर राशि जनता को वापस कर दी जाए?

ज्ञात रहे कि फ़्रांस में पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्यों में वृद्धि के विरुद्ध देश व्यापी यलो वेस्ट आंदोलनन की ओर से प्रदर्शन जारी हैं।

फ़्रांस में एक महीना पहले सोशल मीडिया से ख्याति प्राप्त करने वाले यलो वेस्ट आंदोलन ने बहुत कम से व्यापक स्तर पर अपने समर्थकों की संख्या में वृद्धि की है जिनकी काल पर प्रदर्शनकारियों ने देश के महत्वपूर्ण राजमार्गों और सड़कों को बंद कर दिया।

प्रदर्शनकारियों का कहना था कि वह वर्षों से पेट्रोलियम पदार्थों पर लगे अनेक टैक्सों की चक्की में पिस रहे हें।

ज्ञात रहे कि पिछले सप्ताह होने वाले एक सर्वे में इस आंदोलन के पक्ष में 73 प्रतिशत फ़्रांसीसी नागरिकों ने मतदान किया था। (AK)

कमेंट्स