Dec ०९, २०१८ २३:१९ Asia/Kolkata
  • बांग्लादेश, विपक्ष का आरोप, चुनाव से पहले व्यापक स्तर पर गिरफ़्तारियां

बांग्लादेश के विपक्षी दल बांग्लादेश नेश्नलिस्ट पार्टी बीएनपी ने सरकार पर आम चुनावों से पहले प्रत्याशियों और उनके लगभग दो हज़ार कार्यकर्ताओं को गिरफ़्तार करने का आरोप लगाते हुए इस कार्यवाही को चुनावी अभियान को प्रभावित करने का प्रयास क़रार दिया है।

एएफ़पी की रिपोर्ट के अनुसार बीएनपी का कहना है कि उनके कम से कम 1 हज़ार 972 पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को चुनाव की तारीख़ की घोषणा होने के बाद पोलिंग से केवल एक महीना पहले ही गिरफ़्तार कर लिया गया है।

सरकार की आलोचना करते हुए बीएनपी के अनुसार चुनाव से पहले कार्यकर्ताओं की गिरफ़्तारियां चुनावी अभियान को प्रभावित करने का प्रयास है।

बांग्लादेश नेश्नलिस्ट पार्टी 30 दिसम्बर को होने वाले आम चुनावों में प्रधानमंत्री शैख़ हसीना वाजिद और उनकी पार्टी की सरकार को समाप्त करना चाहती है।

ज्ञात रहे कि बीएनपी की प्रमुख ख़ालेदा ज़िया पर भ्रष्टाचार के आरोप और सज़ा के बाद चुनाव से कुछ दिन पहले ही इतनी बड़ी संख्या में गिरफ़्तारियां विपक्ष के लिए एक बड़ा धचका समझा जा रहा है।

बीएनपी के प्रवक्ता अहमद रिज़वी का कहना है कि पार्टी का अधिकतर प्रबंधक दल नवम्बर के अंत से लेकर अब तक पुलिस की हिरासत में है। उनका कहना था कि पुलिस ने हमारी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं के विरुद्ध सैकड़ों जाली मुक़द्दमे दायर कर रखे हैं।

एक अन्य पार्टी अधिकारी का कहना है कि चुनाव अभियान के आरंभ होने से पहले विपक्ष के 11 चुनाव प्रत्याशियों को भी गिरफ़्तार कर लिया गया था। (AK)

कमेंट्स