Mar २२, २०१९ २०:१७ Asia/Kolkata
  • इस्लामोफ़ोबिया जानबूझकर फैलाया जा रहा हैः इमरान ख़ान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा है कि इस्लाम और मुसलमानों को नुक़सान पहुंचाने के लिए जानबूझ कर इस्लामोफ़ोबिया फैलाया जा रहा है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, इस्लामाबाद में मलेशिया के प्रधानमंत्री के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा कि दुनिया भर में जानबूझकर इस्लामोफ़ोबिया को हवा दी जा रही है। उन्होंने न्यूज़ीलैंड के क्राइस्टचर्च शहर की मस्जिदों पर हुए आतंकी हमले की एक बार फिर कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि इस तरह के आतंकवादी हमले केवल इस्लामोफ़ोबिया को फैलाए जाने के कारण हो रहे हैं।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान का कहना था कि, मुझे सबसे अधिक ऐसे देशों, लोगों और मानवाधिकार संगठनों पर हैरत है कि जो क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में बेरहमी से मारे गए बेगुनाह पुरुष, महिलाओं और बच्चों के जनसंहार पर चुप्पी साधे हुए हैं। उन्होंने कहा कि मैं इस इंतेज़ार में था कि शायद इस आतंकी घटना पर मानवाधिकारों की बड़ी-बड़ी बातें करने वाले लोग दुख व्यक्त करेंगे, लेकिन अफ़सोस की बात है कि ऐसे किसी भी व्यक्ति ने एक भी बयान जारी नहीं किया। इमरान ख़ान ने कहा अगर ऐसे ही कोई घटना किसी मुस्लिम व्यक्ति द्वारा की गई होती तो उसे पूरी दुनिया के मुसलमानों से जोड़ दिया जाता और अब तक पूरी दुनिया उस घटना पर शोर शराबा मचा रही होती।

उल्लेखनीय है कि मलेशिया के प्रधानमंत्री इस समय पाकिस्तान के दौरे पर हैं। मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने इस्लामाबाद में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि क्राइस्टचर्च में घटने वाली आतंकी घटना उस नफ़रत का परिणाम है जो पश्चिमी देश दुनिया में फैला रहे हैं। (RZ)

 

टैग्स

कमेंट्स