• हज़रत अली (अ)

हज़रत अली (अ)

सज़ा में आसक्ति ज़िद्द की आग को भड़काती है।

Jul २०, २०१६ १६:२९ Asia/Kolkata
कमेंट्स