अमरीका के विरोध के बावजूद, विश्व बाज़ार में तेल की क़ीमतें बढ़ती रहेंगी

अमरीका के विरोध के बावजूद, विश्व बाज़ार में तेल की क़ीमतें बढ़ती रहेंगी

विश्व में ऊर्जा की बढ़ती ज़रूरतों के बीच 2021 की शुरूआत से अब तक ओपेक के तेल की क़ीमतों में 30 डॉलर से अधिक की वृद्धि हो चुकी है। अक्टूबर के महीने में तेल की क़ीमतों ने 84 डॉलर प्रति बैरल से अधिक की रिकॉर्ड ऊंचाई को छू लिया है। ओपेक प्लस के उत्पादक देशों ने उत्पादन में वृद्धि के अमरीका के अनुरोध को ख़ारिज कर दिया है, जिसके बाद वैश्विक बाज़ार में तेल की क़ीमतों में उछाल देखने को मिल रहा है।