May १५, २०२२ १७:३६ Asia/Kolkata
  • भारत ने रचा इतिहास, पहली बार जीता प्रतिष्ठित थॉमस कप बैडमिंटन ख़िताब

भारत खेल इतिहास में बहुत ही बड़ा कारनामा अंजाम देते हुए इतिहास रच दिया है। रविवार को बैंकॉक में खेले गए प्रतिष्ठत बैडमिंटन थॉमस कप  का ख़िताब पहली बार अपनी झोली में डाल लिया है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, भारत ने बैंकॉक में खेले गए प्रतिष्ठत बैडमिंटन थॉमस कप फाइनल में प्रतियोगिता के 14 बार के चैंपियन इंडोनेशिया को सीधे मुक़ाबलों में 3-0 से मात देते हुए इस ख़िताब पर क़ब्ज़ा कर लिया। किदांबी श्रीकांत ने तीसरा गेम जीतने के बाद ही भारत को वह उपलब्धि दिला दी, जो अपने आप में किसी ओलिंपिक स्वर्ण पदक या विश्व कप जीतने से कम नहीं है। करोड़ों भारतीय खेलप्रेमियों की नज़रें इस दिन पर लगी थीं, करोड़ों फैंस परिणाम को लेकर उत्सुक और चिंतित थे, लेकिन फाइनल में खेले गए तीनों मुक़ाबलों में भारत ने सभी को ग़लत साबित करते हुए पहली बार चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया।

भारत के बैडमिंटन स्टार किदांबी श्रीकांत

शुरुआती दो गेम अपनने नाम कर चुके तीसरे और निर्णायक मुक़ाबले में भारत के किदांबी श्रीकांत का मुक़ाबला इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी के साथ था, जिन्हें श्रीकांत ने पहले गेम में आसानी से 21-15 से मात देकर करोड़ों भारतीय खेलप्रेमियों को रोमांच से भर दिया, लेकिन दूसरे मुकाबले में क्रिस्टी और श्रीकांत के बीच ज़बर्दस्त टक्कर देखने को मिली और दोनों ही खिलाड़ियों के नर्व सिस्टम की ख़ासी परीक्षा हुई। मैच के आख़िरी पलों में मुक़ाबला बहुत ही मज़ेदार हुआ। एक समय श्रीकांत के पास 11-8 की बढ़त थी, लेकिन क्रिस्टी ने लोहा लेना जारी रखा। कभी श्रीकांत आगे, तो कभी क्रिस्टी! और यह आख़िरी गेम एक समय 21-21 पर जाकर टिक गया। यहां से श्रीकांत ने दो और अंक बटोरे और श्रीकांत के 23-21 से मैच जीतने के साथ ही भारत ने इतिहास रच दिया। टीवी सेट के सामने चिपके बैठे करोड़ों हिंदुस्तानी अपने-अपने घरों में झूम  उठे क्योंकि यह ठीक वैसा ही नज़ारा था, जब पूरा हिंदुस्तान ओलंपिक के समय नीरज चोपड़ा के इर्द-गिर्द सिमट गया था। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स