May २०, २०२२ १२:५७ Asia/Kolkata
  • भारतः आज़म ख़ां ज़मानत पर रिहा, सरेंडर से राहत की सिद्धू की अर्ज़ी सुप्रीम कोर्ट से ख़ारिज

भारत के मीडिया में दो नेताओं के अदालती मुद्दों का आज विशेष रूप से चर्चा है। जहां समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ और प्रभावशाली नेता आज़म ख़ां ज़मानत पर जेल से छूटे हैं वहीं कांग्रेस के जाने माने नेता नवजोत सिंह सिद्धू को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है।

उच्चतम न्यायालय ने कथित धोखाधड़ी के एक मामले में जेल में क़ैद समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खां को बृहस्पतिवार को अंतरिम जमानत दी थी, जिसके बाद शुक्रवार को सपा नेता आज़म ख़ां सीतापुर जेल से रिहा हो गए हैं। आज़म खां को लेने उनके पुत्र अब्दुल्ला आज़म और शिवपाल यादव सीतापुर जेल पहुंचे थे।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के बारे में कहा जाता है कि उसने आज़म ख़ां को जेल में बंद रखने के लिए बड़ी कसरत की और उनकी रिहाई के रास्ते में बार बार रुकावटें डालीं। आज़म खां साल 2020 से जेल में बंद थे। यूपी पुलिस ने पिछले कुछ सालों में उनके खिलाफ 88 मामले दर्ज किए थे। खां को शीर्ष अदालत ने 88वें मामले में गुरुवार को अंतरिम जमानत दी थी।

आजम खां के रिहा होने सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट किया ओर लिखा कि सपा के वरिष्ठ नेता व विधायक मा. श्री आज़म ख़ान जी के ज़मानत पर रिहा होने पर उनका हार्दिक स्वागत है, जमानत के इस फ़ैसले से सर्वोच्च न्यायालय ने न्याय को नये मानक दिये हैं, पूरा ऐतबार है कि वो अन्य सभी झूठे मामलों-मुक़दमों में बाइज़्ज़त बरी होंगे. झूठ के लम्हे होते हैं, सदियाँ नहीं!

दूसरी ओर कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू रोड रेज के मामले में मुसीबत में फंस गए हैं। सिद्धू को शुक्रवार को पटियाला कोर्ट में सरेंडर करना था मगर उन्होंने हेल्थ प्राब्लम का हवाला देते हुए इसके लिए सुप्रीम कोर्ट से समय मांगा था।

सिद्धू की क्यूरेटिव पिटीशन पर सुनवाई करते हुए बेंच की तरफ़ से कहा गया कि इसको चीफ़ जस्टिस की बेंच के सामने रखा जाए चीफ़ जस्टिस के पास सिद्धू के वकील ने इस पर तुरंत सुनवाई की मांग की लेकिन चीफ़ जस्टिस ने इसकी इजाज़त नहीं और कहा कि वह रजिस्ट्री के पास पहले याचिका दें।

सुप्रीम कोर्ट ने 1988 के रोडरेज मामले में उन्हें गुरुवार को एक साल की सज़ा सुनाई है। इसके लिए उनके अदालत के सामने सरेंडर करना था। सिद्धू के दोस्त का कहना है कि उनके लीवर में समस्या है।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स