Jun २९, २०२२ १६:४३ Asia/Kolkata
  • दुनिया में कहीं भी लोगों को अपनी बात रखने की खुलकर अनुमति होनी चाहिएः राष्ट्रसंघ

आल्ट न्यूज़ वेबसाइट के सह-संस्थापक मुहम्मद ज़ुबैर की गिरफ़्तारी पर राष्ट्रसंघ की ओर से बयान आया है।

पत्रकारों को उनके ट्वीट या लिखने के कारण जेल में नहीं डाला जा सकता।  संयुक्त राष्ट्रसंघ के महासचिव के प्रवक्ता ने कहा है कि पत्रकार जो लिखते हैं या ट्वीट करते हैं उसके कारण उनको जेल नहीं भेजना चाहिए।  उन्होंने कहा कि यह बहुत ज़रूरी है कि लोगों को निडर होकर अपनी बात रखने की अनुमति दी जाए।

राष्ट्रसंघ के महासचिव के प्रवक्ता स्टीफेन दुजारिक ने कहा है कि दुनिया में कहीं भी लोगों को अपनी बात रखने की खुलकर अनुमति होनी चाहिए।  उन्होंने कहा कि पत्रकारों को भयमुक्त होकर अपना पक्ष रखने का अवसर दिया जाए। उनका कहना था कि पत्रकार जो कुछ भी लिखते हैं, ट्वीट करते हैं इसके लिए उनको जेल में नहीं डालना चाहिए।  यह बात पूरी दुनिया में लागू होती है।

अमरीका की राजधानी वाशिग्टन में सीपीजे के एशिया कार्यक्रम के समन्वयक ने कहा है कि भारतीय पत्रकार मुहम्मद ज़ुबैर की गिरफ़्तारी से भारत मे प्रेस की स्वतंत्रता का स्तर और नीचे चला गया।  स्टीवन बटलर के अनुसार भारत में सरकार ने सांप्रदायिक मुद्दों से जुड़े समाचारों को प्रकाशित करने वाले पत्रकारों के लिए शत्रुतापूर्ण एवं असुरक्षित वातावरण बना दिया है।  उन्होंने कहा कि मुहम्मद ज़ुबैर को बिना किसी शर्त के स्वतंत्र किया जाए और बिना किसी भी प्रकार के हस्तक्षेप के उन्हे पत्रकारिता करने दी जाए।

याद रहे कि मुहम्मद ज़ुबैर ने पिछले महीने बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के उस बयान का वीडियो क्लिप ट्वीटर पर शेयर किया था, जिसमें उन्होंने पैग़म्बरे इस्लाम (स) का अपमान किया था।  पैग़म्बरे इस्लाम (स) के अपमान पर मुस्लिम देशों ने कड़ी आपत्ति जताई थी और कई देशों में भारतीय उत्पादों के बहिष्कार के लिए भी अभियान चलाया गया था।

दिल्ली पुलिस ने नूपुर शर्मा के ख़िलाफ़ तो कोई कार्यवाही तो नहीं की, लेकिन अब ज़ुबैर को गिरफ़्तार कर लिया।  नूपुर शर्मा ने ज़ुबैर पर माहौल ख़राब करने और उनके परिवार के ख़िलाफ़ सांप्रदायिक और नफ़रत पैदा करने का आरोप लगाया था।  अब दिल्ली की एक अदालत ने मुहम्मद ज़ुबैर से पूछताछ के लिए हिरासत की अवधि को चार दिनों के लिए बढ़ा दिया है।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स