Aug ०६, २०२२ २०:०४ Asia/Kolkata

कश्मीर में मोहर्रम के मौक़े पर शोक सभाओं और उठने वाले जलूसों का सिलसिला जारी, एक ओर कश्मीर के हर कोने से या हुसैन या हुसैन की आवाजें आ रही हैं वहीं दूसरी ओर 33 साल से केंद्रीय जलूसों पर लगे प्रतिबंध स्थानीय प्रशासन समाप्त नहीं कर रहा है, इस बारे में विस्तार से जानकारी दे रहे हैं श्रीनगर से हमारे संवादादाता सिब्ते मोहम्मद हसन।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स