Aug ०९, २०२२ १६:५८ Asia/Kolkata
  • बिहार में टूटा गठबंधन, बनेगी नई सरकार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारतीय जनता पार्टी के साथ चल रहे गठबंधन को यह कहकर तोड़ दिया कि भाजपा ने हमेशा हमें धोखा दिया है।

भारतीय संचार माध्यमों के अनुसार बिहार में नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू और बीजेपी के बीच चल रहा गठबंधन आज टूट गया।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर बैठक के बाद मंगलवार को गठबंघन के टूटने की घोषणा की गई।  नीतीश कुमार का आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा से ही हमें कमज़ोर करने की कोशिश की है।  उन्होंने कहा कि 2013 से लेकर अबतक भाजपा मुझको केवल धोखा ही देती रही है।  नीतीश कुमार के अनुसार भारतीय जनता पार्टी ने मुझको बहुत अपमानित किया।

उन्होंने अब नई सरकार बनाने का दावा किया है।  नीतीश कुमार ने 160 विधायकों के समर्थन का पत्र, राज्यपाल को दे दिया है।  उन्होंने पत्रकारों से कहा कि हमारे सभी विधायकों और सांसदों ने एनडीए गठबंधन से बाहर रहने का सुझाव दिया था।  नीतीश कुमार ने कहा कि इस सुझाव के बाद हमले त्यागपत्र दे दिया।  बीजेपी से गठबंधन तोड़ने के बाद नीतीश कुमार अब फ्लोर टेस्ट की तैयारी में हैं।  बिहार की विधानसभा में जेडीयू के पास कुल 45 विधायक हैं।

बताया जा रहा है कि बीजेपी और जेडीयू के गठबंधन के टूटने से पहले नीतीश कुमार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से फ़ोन पर बात की थी।  दोनों नेताओं के बीच काफ़ी देर तक बातचीत हुई। ऐसी भी ख़बरें हैं कि 15 दिनों में नीतीश कुमार और सोनिया गांधी ने तीन बार बात की है।

राजनीतिक पंडितों का कहना है कि हालिया हालात को देखते हुए नितीश कुमार को एसा लगने लगा था कि कहीं उनका हाल भी महाराष्ट्र के उद्धव ठाकरे जैसा न हो जाए और उनकी पार्टी के नेता उनके हाथ से न निकल जाएं।

 हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स