Aug ०२, २०२० २३:०९ Asia/Kolkata
  • भारत में चरमपंथी दरिंदगी का भयानक चेहरा फिर सामने आया, मुसलमान युवा पर हथौड़े से हमला, गाय का गोश्त ले जाने का था शक!

भारत में नई दिल्ली के क़रीब मुसलमान युवा को एक गुट ने गाय का गोश्त ले जाने के संदेह में अपनी हैवानियत का निशाना बनाया। इस घटना की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है।

टाइम्ज़ आफ़ इंडिया ने रिपोर्ट दी है क यह घटना हरियाणा के गुणगाव में शुक्रवार की सुबह हुई। पुलिस कहती है कि उसने एक आरोपी को गिरफ़तार किया है लेकिन इस प्रकार की घटनाओं में हत्यारे भी इससे पहले आराम से छूट चुके हैं। क्योंकि सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और उससे जुड़े संगठनों की ओर इस इस तरह के अपराधी तत्वों का मनोबल बढ़ाया जाता रहा है और बहुत से मामलों मं देखा गया है कि यह अपराधी तत्व इन्हीं संगठनों से जुड़े होते हैं।

वायरल वीडिया में एक गुट को 27 साल के युवा लुक़मान को घसीटते और लातें बरसाते देखा जा सकता है और बड़ी भीड़ वहीं खड़ी इस दरिंदगी का तमाशा देख रही है।

इस वीडिया में एक व्यक्ति हथोड़े से लुक़मान को मार रहा है और वहीं एक पुलिसकर्मी भी खड़ा हुआ दिखाई दे रहा है।

पुलिस पीआरओ सुभाष बोकन ने बताया कि बुरी तरह पीटे गए युवा ने पुलिस को बताया कि वह अपने ट्रक में भैंस का गोश्त गुड़गांव के इलाक़े नूह से सदर बाज़ार ले जा रहा था जब वह गड़गांव पहुंचा तो मोटरसाइकल पर सवार कुछ लोगों ने उसका पीछा कर लिया, उसने फ़रार होने की कोशिश की लेकिन उसे रोक लिया गया।

पुलिस का कहना है कि हमलावर चरमपंथी लुक़मान को किसी और जगह ले गए और वहां उसको हिंसा का निशाना बनाया और उसकी गाड़ी को भी नुक़सान पहुंचाया।

प्रदीप यादव नाम के एक आरोपी को पुलिस ने पकड़ा और कुछ अन्य आरोपियों की शिनाख्त कर लेने का दावा कर रही है।

गाड़ी के मालिक का कहना है कि गाड़ी में भैंसा का गोश्त लदा था और वह पिछले पचास साल से यह कारोबार कर रहे हैं।

2015 से 2018 के बीच ह्यूमन राइट्स वाच के अनुसार गाय का गोश्त रखने के शक में कम से कम 44 लोगों को इसी तरह दरिंदगी का  निशाना बनाकर क़त्ल किया जा चुका है।

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

टैग्स

कमेंट्स