Oct २७, २०२० १४:०७ Asia/Kolkata
  • कश्मीरियों को उनके अधिकार मिल जाने तक संघर्ष जारी रखूंगाः इमरान, तुर्की ने कहा कश्मीर पर पाकिस्तान के स्टैंड के साथ

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा कि विश्व समुदाय सयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के अनुसार भारत को कश्मीर समस्या का समाधान करने पर मजबूर करे।

डान न्यूज़ के अनुसार पाकिस्तान, एलओसी के दोनों ओर और अन्य देशों में बसे कश्मीरी 27 अकतूबर को काला दिवस मना रहे हैं। 27 अकतूबर 1947 को भारत ने कश्मीर में अपनी सेना उतारी थी और इस इलाक़े पर नियंत्रण कर लिया था।

इस अवसर पर अपने बयान में इमरान ख़ान ने कहा कि कश्मीरियों को उनका अधिकार दिलाने तक संघर्ष जारी रखूंगा।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि 5 अगस्त 2019 को कश्मीर में भारत की एकपक्षीय कार्यवाहियों, सैनिक घेराबंदी और टेली कम्युनिकेशन पर हमले के साथ ही आबादी का अनुपात बदलने की ग़ैर क़ानूनी गतिविधियों ने मोदी सरकार के हिंदुत्ववादी नज़रिए को और भी बेनक़ाब कर दिया है।

इमरान ख़ान ने कहा कि कश्मीर की अंतर्राष्ट्रीय हैसियत संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों में स्वीकार की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि यह विश्व समुदाय का दायित्व है कि भारत को अपनी ज़िम्मेदारियां पूरी करने पर मजबूर करे।

इस अवसर पर पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ़ अलवी ने कश्मीरी जनता के संघर्ष का समर्थन जारी रखने का संकल्प दोहराते हुए कहा कि भारत की ग़ैर क़ानूनी गतिविधियां ने बेरहम हिंदुत्व के अनुयायियों आरएसएस और भाजपा की सरकार का असली चेहरा बेनक़ाब कर दिया है।

आरिफ़ अलवी ने कहा कि कश्मीरी जनता एक साल से अधिक समय से अपने घरों में क़ैद है, वह अपनी ही धरती पर और अपनी ही सड़कों पर आज़ादी से चलने फिरने के क़ाबिल नहीं है।

दूसरी ओर तुर्की की सरकार ने कश्मीर पर पाकिस्तान के स्टैंड का समर्थन किया और कहा कि कश्मीर पर हम पाकिस्तान के स्टैंड के साथ खड़े हैं।

तुर्की के रक्षा मंत्री ख़लूसी अकार ने कराची में पाकिस्तानी नौसेना के एक प्रोजेक्ट के उदघाटन समारोह में यह बात कही।

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स

कमेंट्स