Mar ०१, २०२१ १३:१४ Asia/Kolkata
  • ईरान की चाबहार बंदरगाह से व्यापार बढ़ाने के लिए भारत की नई नीति, वस्तुओं के ट्रान्ज़िट के लिए शिपिंग कंपनियों को मिलेगी...

भारत सरकार ने इस्लामी गणतंत्र ईरान के साथ चाबहार बंदरगाह से व्यापार बढ़ाने की कोशिश जारी रखने पर बल दिया है।

भारत के बंदरगाह व जहाज़रानी मंत्रालय ने कहा है कि जवाहर लाल नेहरू और दीन दयाल बंदरगाह, ईरान की चाबहार बंदरगाह से व्यापार बढ़ाने के उद्देश्य से वस्तुओं के ट्रान्ज़िट के लिए शिपिंग कंपनियों को छूट देगी।

इरना के मुताबिक़, भारत के बंदरगाह व जहाज़रानी मंत्रालय की रिपोर्ट में इस बात का ज़िक्र है कि माल की खेप चाबहार पहुंचाने की प्रक्रिया जारी है और अफ़ग़ानिस्तान से वस्तुओं का ट्रान्ज़िट बढ़ रहा है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक़, 31 जनवरी 2021 से 123 जहाज़, चाबहार की शहीद बहिश्ती बंदरगाह में लंगर अंदाज़ हुये हैं।

सन 2016 में ईरान, भारत और अफ़ग़ानिस्तान के बीच उत्तर-दक्षिण अंतर्राष्ट्रीय कोरिडोर बनाने के तीनपक्षीय समझौते पर दस्तख़त हुए, जिसमें, भारत की ओर से पूंजिनिवेश के ज़रिए चाबहार बंदरगाह में विस्तार, केन्द्र बिन्दु की हैसियत रखता है।

भारत इस समझौते के तहत चाबहार बंदरगाह के विस्तार में 50 करोड़ डॉलर का पूंजिनिवेश करने पर प्रतिबद्ध हुआ है। इसी तरह वह इस समझौते के तहत सड़क और रेलवे नेटवर्क बनाने के लिए भी पूंजिनिवेश पर प्रतिबद्ध हुआ है। (MAQ/N)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स