Mar ०८, २०२१ १४:४५ Asia/Kolkata
  • चीन की नज़र में सीमा विवाद इतिहास की देन, जुलाई में तिब्बत तक बुलेट ट्रेन चलने से बढ़ सकता है भारत का टेंशन

भारत-चीन संबंध में सीमा विवाद को पूरी तरह ज़िम्मेदार न मानते हुए चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कहा हि दोनों देश दोस्त और साझेदार हैं और उन्हें एक दूसरे पर संदेह करना छोड़ देना चाहिए।

वांग यी ने पिछेल साल मई में पूर्वी लद्दाख़ में सीमा गतरोध होने के बाद से भारत-चीन संबंधों की मौजूदा स्थिति पर अपने वार्षिक संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल के जवाब में कहा कि यह ज़रूरी है कि दोनों देश अपने विवादों का निपटारा करें और द्विपक्षीय सहयोग का विस्तार करें। उन्होंने कहाः “सीमा विवाद, इतिहास की देन है, यह चीन भारत-संबंध के लिए पूरी तरह ज़िम्मेदार नहीं है।”

वहीं चीन इस साल जुलाई से पहले अरूणाचल प्रदेश से लगने वाली भारतीय सीमा के निकट तिब्बत तक बुलेट ट्रेनें चलाएगा, जो सभी प्रांतों तक हाई स्पीड ट्रेन सेवाओं की एक शुरूआत है। यह बुलेट ट्रेन भारत के लिए टेंशन पैदा कर सकती है।(MAQ/N)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स