Apr २१, २०२१ ०९:०१ Asia/Kolkata
  • उद्योग ऑक्सीजन के लिए इंतज़ार कर सकते हैं, कोविड-19 के मरीज़ नहीं, दिल्ली हाई कोर्ट

दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार को अपने एक फ़ैसले में कहा है कि उद्योग ऑक्सीजन के लिए इंतज़ार कर सकते हैं, कोविड-19 के मरीज़ नहीं।

देश में कोरोना महामारी के बेक़ाबू होने और कोरोना के मरीज़ों के लिए ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति नहीं होने को लेकर अदालत ने केन्द्र सरकार को जमकर लताड़ा है और सवाल किया है कि क्या उद्योगों की ऑक्सीजन आपूर्ति कम करके उसे वह मरीज़ों को मुहैया नहीं करा सकती है।

जस्टिस विपिन सांघी और जस्टिस रेखा पल्ली की पीठ ने केंद्र सरकार से कहाः उद्योग इंतज़ार कर सकते हैं, मरीज़ नहीं। मानव जीवन ख़तरे में है।

अदालत ने केंद्र सरकार की अधिवक्ता मोनिका अरोड़ा से सवाल किया कि ऐसे कौन से उद्योग हैं, कि जिनकी ऑक्सीजन आपूर्ति कम नहीं की जा सकती है।

साथ ही पीठ ने अरोड़ा से यह जानकारी देने को भी कहा कि कोविड-19 के मरीज़ों के लिए ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति के लिए क्या-क्या किया जा सकता है।

कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप की वजह से राजधानी दिल्ली समेत विभिन्न शहरों में ऑक्सीजन, वेटिंलेटर और अस्पतालों में बिस्तरों की मारामारी है। msm

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स