Jun २४, २०२१ १६:५८ Asia/Kolkata
  • ईरान ने यूरोप को दिखाया आईना, मानवाधिकारों का दम भरने वालों, दूसरे के अधिकारों का ख़याल रखना भी सीखो

ईरानी संसद मजलिसे शुराये इस्लामी में मानवाधिकार आयोग की प्रमुख ज़ोहरा एलाहियान ने यूरोपीय संसद में मानवाधिकार समिति के अध्यक्ष के नाम पत्र लिखकर विदेशों में रहने वाले ईरानियों को मतदान केन्द्रों पर मारने- पीटने पर आपत्ति जताई है।

इस पत्र में आया है कि मतदान के समय विदेशों में रहने वाले ईरानियों के साथ मार - पीट की घटना पर विश्व समुदाय की चुप्पी इस प्रकार की कार्यवाहियों का आदेश देने वालों और मार-पीट करने वालों के अधिक दुस्साहस होने का कारण बनेगी।

श्रीमती एलाहियान के पत्र में आया है कि अंतरराष्ट्रीय कानूनों के अनुसार विदेशों में रहने वाले हर देश के नागरिक को अपने देश की चुनावी प्रक्रिया और मतदान में भाग लेने का अधिकार है।

लंदन में इस्लामी गणतंत्र ईरान के दूतावास ने भी मतदान केन्द्र पर मतदाताओं के साथ मारपीट करने पर ब्रितानी पुलिस के क्रियाकलापों पर आपत्ति जताई थी और ज़िम्मेदारों की पहचान करके उनकी गिरफ्तारी और उन्हें दंडित करने का आह्वान किया था।

ज्ञात रहे कि आतंकवादी गुट एमकेओ के तत्वों ने 18 जून को लंदन में ईरानी राष्ट्रपति के लिए होने वाले मतदान के दौरान दो ईरानी नागरिकों पर हमला करके उन्हें बुरी तरह मारा पीटा था। आतंकवादियों ने जिन ईरानियों को मारा पीटा था उनमें एक महिला थी और वह मतदान करना चाह रही थी। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स