Sep १७, २०२१ ०८:५४ Asia/Kolkata
  • ईरान के राष्ट्रपति ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री से मुलाक़ात में अफ़ग़ान समस्या के समाधान की बताई कुंजी

ईरान के राष्ट्रपति और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने ताजिकिस्तान में शंघाई शिखर सम्मेलन से इतर एक दूसरे से मुलाक़ात की

ईरान के राष्ट्रपति ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री से भेंट में कहा है कि तेहरान और इस्लामाबाद के बीच संबंधों में विस्तार के लिए मूल्यवान संभावनायें मौजूद हैं।

प्राप्त समाचारों के अनुसार सैयद इब्राहीम रईसी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरूवार को ताजिकिस्तान की राजधानी दोशंबे में एक दूसरे से मुलाकात की जिसमें राष्ट्रपति रईसी ने दोनों देशों के मध्य मौजूद समानताओं की ओर संकेत किया और कहा कि किसी को भी इन अच्छे संबंधों को खराब करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिये।

उन्होंने दोनों देशों की लंबी सीमाओं और सीमावर्ती क्षेत्रों में आर्थिक लेन- देने हेतु संभावनाओं की ओर संकेत करते हुए कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति होने से आर्थिक लेन-देन और व्यापार को सक्रिय बनाने के अलावा इन क्षेत्रों के विकास में मदद भी की जा सकती है। इसी प्रकार इस भेंट में ईरानी राष्ट्रपति ने अफगानिस्तान में व्यापक सरकार के गठन पर बल दिया और कहा कि अफगान समस्या के समाधान की कुंजी व्यापक सरकार का गठन और इस देश के मामलों में विदेशी हस्तक्षेप को रोकना है।

ईरानी राष्ट्रपति ने कहा कि 20 वर्षों तक अफगानिस्तान में अमेरिकी और पश्चिमी सैनिकों की उपस्थिति का नतीजा, बर्बादी और 35 हज़ार से अधिक बच्चों, महिलाओं और पुरुषों की हत्या के अलावा कुछ नहीं रहा है। राष्ट्रपति ने अमेरिकी सैनिकों के निष्कासन को अफगानिस्तान में व्यापक सरकार के गठन और इस देश में शांति व सुरक्षा स्थापित करने का एतिहासिक अवसर करार दिया।

इस मुलाकात में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी ईरानी राष्ट्रपति के दृष्टिकोणों को रचनात्मक बताया और उसकी सराहना करते हुए कहा कि हम समस्त क्षेत्रों में ईरान के साथ संबंधों को विस्तृत करने के इच्छुक हैं और हमारा मानना है कि दोनों देशों के सहयोग की सतह में विस्तार से क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उसका सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि अफगानिस्तान में शांति व सुरक्षा क्षेत्र और विश्व सबके हित में है और अगर इस देश में व्यापक सरकार का गठन न हो तो इस देश की समस्याओं में वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में व्यापक सरकार के गठन के संबंध में ईरान और पाकिस्तान को एक दूसरे के साथ निकट सहयोग करना चाहिये। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स