Sep २५, २०२१ १०:३० Asia/Kolkata
  • परमाणु वार्ता के मुद्दे पर विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान का बड़ा बयानः वियेना वार्ता बहुत जल्द शुरू होगी, नतीजा अमरीका के रवैए पर निर्भर

ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान ने साफ़ शब्दों में कहा है कि अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडन की ओर से अब तक परमाणु समझौते के संदर्भ में कोई अमली क़दम देखने में नहीं आया है और ईरान की नई सरकार की नज़र में कसौटी अमल है बयान और बातें नहीं।

विदेश मंत्री अब्दुल्लाहियान ने अमरीकी मीडिया से शुक्रवार को अपनी मुलाक़ात में ईरान की नीतियों पर खुलकर बातें कीं।

अब्दुल्लाहियान ने कहा कि नई सरकार की पहली प्राथमिकता संतुलित विदेश नीति है, दुनिया के देशों से संबंध और सहयोग बढ़ाने का हमारे पास प्रोग्राम मौजूद है, केवल ज़ायोनी शासन है जिसे हम क़ानूनी सरकार नहीं मानते इसलिए उसके साथ हमारा कोई संबंध नहीं हो सकता और क्षेत्र में इस शासन के विनाशकारी क़मदों के बारे में हमारा स्टैंड भी बिल्कुल साफ़ है।

विदेश मंत्री अब्दुल्लाहियान ने अमरीका के बारे में कहा कि हम श्रीमान बाइडन के अमल और व्यवहारिक क़दमों  के आधार पर फ़ैसला करेंगे।

एटमी डील के बारे में ईरान के विदेश मंत्री ने कहा कि अमरीकी अधिकारी एक ओर एटमी डील में लौटने की बात करते हैं और दूसरी ओर ईरान से मांग करते हैं कि वियेना वार्ता की मेज़ पर लौटे लेकिन साथ ही साथ ईरान पर नई नई पाबंदियां भी लगाते हैं, यह विरोधाभासी रवैया है जिससे सार्थक संदेश सामने नहीं आ रहा है।

विदेश मंत्री ने कहा कि ईरान की नई सरकार ने शुरू से ही एटमी डील के बारे में अपना स्टैंड साफ़ शब्दों में बयान कर दिया कि वार्ता प्रक्रिया को वह मान्यता देती है, एटमी डील से दूरी नहीं बनाएगी और सभी पक्षों की ओर से एटमी डील पर अमल ज़रूरी है। विदेश मंत्री अब्दुल्लाहियान ने कहा कि यह खिड़की हमेशा खुली नहीं रहेगी।

हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान ने वाइट हाउस से मिलने वाले विरोधाभासी संदेशों के बारे में कहा कि ईरान की नई सरकार अमल को कसौटी मानती है, हमारे लिए अमरीकी अधिकारियों के बयान से ज़्यादा प्रतिबद्धताओं पर उनके अमल का महत्व है। उन्होंने कहा कि यह स्वीकार नहीं है कि बाइडन एक तरफ़ समझौते, वार्ता यहां तक कि द्विपक्षीय वार्ता की बात करें और दूसरी ओर पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प की नीतियों पर अमल करना जारी रखें।

विदेश मंत्री अब्दुल्लाहियान ने कहा कि हम वियेना वार्ता के मुद्दे पर गहन विचार कर रहे हैं और बहुत जल्द वार्ता शुरू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि वार्ता वही सार्थक है जिससे स्पष्ट और व्यवहारिक नतीजे निकलें।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स