Sep २८, २०२१ ०८:४८ Asia/Kolkata
  • अमरीका और यूरोपीय ट्राइका के ग़ैर ज़िम्मेदाराना बयान पर ईरान ने दिया मुंहतोड़ जवाब, कहा इस्राईल की आतंकी हरकत पर चुप्पी सहन नहीं की जाएगी

वियेना में अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं के लिए ईरान के राजदूत काज़िम ग़रीबाबादी ने अमरीका और यूरोपीय ट्राइका के ग़ैर ज़िम्मेदाराना बयान का जवाब देते हुए कहा कि यह तो नहीं हो सकता कि ईरान के परमाणु प्रतिष्ठान के भीतर इस्राईल की आतंकी हरकत पर आईएईए मूक दर्शक भी बनी रहे और ईरान से यह अपेक्षा भी रखे कि इस्राईल की विनाशकारी हरकतों का निशाना बनने वाले प्रतिष्ठान में वह आईएईए से सहयोग करे।

अमरीका और तीन यूरोपीय देशों ने अपने बयानों में दावा किया है कि ईरान अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी आईएईए से ज़रूरी सहयोग नहीं कर रहा है।

ग़रीबाबादी ने कहा कि आईएईए, अमरीका और तीनों यूरोपीय देश यह समझ लें कि यह नहीं हो सकता कि आप इस्राईल की आतंकी गतिविधियों पर चुप्पी साधे बैठे रहें और ईरान से यह मांग करें कि आतंकी गतिविधियों का निशाना बनने वाले प्रतिष्ठानों में आईएईए के कैमरे काम करते रहें और निगरानी का सिलसिला भी बिना रुकावट चलता रहे।

ग़रीबाबादी ने कहा कि जब इस्राईल की आतंकी हरकत की वजह से आईएईएई के कैमरे ख़राब हो गए हैं तो आप ईरान से यह उम्मीद नहीं रख सकते कि इस्राईल को कोई ख़मियाज़ा भी नहीं भुगतना पड़े और ईरान यह अनुमति दे दे कि आईएईए दोबारा अपने कैमरे लगा दे।

ईरान के वरिष्ठ कूटनयिक का कहना था कि आईएईए के साथ ईरान के समझौते पर पूरी तरह अमल हुआ और ईरान भी ध्यान से देख रहा है कि उसकी इस सदभावना के जवाब में आईएईए ने क्या किया। उन्होंने कहा कि हम हर चरण में उचित क़दम उठाएंगे।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स