Nov २९, २०२१ १७:४६ Asia/Kolkata
  • अमरीका और यूरोप को ईरान की दो टूक,  प्रतिबंध हटेंगे तभी वार्ता कामयाब रहेगी...

ईरान के उप विदेशमंत्री और वरिष्ठ परमाणु वार्ताकार अली बाक़िरी कनी का कहना है कि ग़ैर क़ानूनी और अत्याचारपूर्ण प्रतिबंधों की समाप्ति के लिए मज़बूत इरादे और पूरी तैयारी के साथ वार्ता के लिए तैयार हैं।

उन्होंने चीन और रूसी प्रतिनिधि मंडलों और यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रभारी और समग्र परमाणु समझौते के संयुक्त आयोग की प्रमुख एनरिका मोर से मुलाक़ात के बाद कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान की वार्ताकार टीम में शामिल लोगों से ही इस बात का अनुमान अच्छी तरह लगाया जा सकता है कि वह अमरीका के ग़ैर क़ानूनी और अत्याचारपूर्ण प्रतिबंधों की समाप्ति के लिए किस तरह गंभीर हैं।

उन्होंने आशा व्यक्त की है कि विएना में आरंभ होने वाली वार्ता का नया दौर ईरान के विरुदध् प्रतिबंधों की समाप्ति में प्रभावी भूमिका अदा करेगा।

ईरान के उप विदेशमंत्री ने विएना में आरंभ होने वाली वार्ता में समय के बारे में कहा कि वार्ता में हमारी पहली प्राथमिकता प्रतिबंधों की समाप्ति है, इसलिए समय के अनुसार वार्ता के लिए फ़िलहाल कोई सीमा निर्धारित नहीं की जा सकती लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि सोमवार से होने वाली वार्ता में विएना वार्ता के लिए एक रोडमैप पर वार्ता की जाएगी और इस बात की भी प्रबल संभावना है कि वार्ता की टाइम लाइन भी तैय कर ली जाएगी।

ज्ञात रहे कि ईरान ने स्पष्ट कर दिया है कि इन वार्ताओं का मूल लक्ष्य ईरान के विरुद्ध सारे ग़ैर क़ानूनी और अत्याचारपूर्ण प्रतिबंधों को समाप्त करना है। ईरान के वरिष्ठ परमाणु वार्ताकार अली बाक़िरी कनी सामने वाले देशों को सचेत कर चुके हैं कि अगर सारे प्रतिबंध ईरान पर से उठाए नहीं जाते तो यह वार्ता भी विफल रहेगी। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स