Dec २१, २०२१ १९:४२ Asia/Kolkata

ईरान में आईआरजीसी की पैग़म्बरे आज़म (स) सैन्य अभ्यास के दूसरे दिन बैलेस्टिक मीज़ाइलों से सक्रिय और निष्क्रिय लक्ष्यों को निशाना बनाया गया।

ईरान प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार आईआरजीसी के डिप्टी चीफ़ आफ़ आप्रेशन्ज़ और पैग़म्बरे आज़म (स)- 17 नामक सैन्य अभ्यास के प्रवक्ता जनरल अब्बास नीलफ़ूरूशान ने फ़ार्स की खाड़ी के तटों, हुर्मुज़ स्ट्रेट और हुर्मुज़गान, बूशहर और ख़ूज़िस्तान प्रांतों के क्षेत्रों में पांच दिनों तक पैग़म्बरे आज़म (स)-17 नामक संयुक्त सैन्य अभ्यास के दूसरे दिन के बारे में कहा कि सैन्य अभ्यास के दूसरे दिन बैलेस्टिक मीज़ाइलों से एक जगह ठहरे और हिलने डुलने वाले लक्ष्यों को निशाना बनाया गया।

संयुक्त सैन्य अभ्यास के प्रवक्ता ने कहा कि पैग़म्बरे आज़म-17 सैन्य अभ्यास की या फ़ातेमा ज़हरा (स), शक्ति, सुरक्षा, रक्षा की तैयारी और एकता व एकजुटता के नारे से शुरुआत हुई और सैन्य अभ्यास के दूसरे दिन एयर डिफ़ेंस सिस्टम और युद्धक नौकाओं का विभिन्न तरीक़ों से प्रयोग जैसी कार्यवाही की गयी।

जनरल नीलफ़ूरूशान ने कहा कि सैन्य अभ्यास में हर प्रकार के ख़तरों का मुक़ाबला करने की कार्यवाही की जाएगी और आधुनिक सैन्य उपकरणों का प्रयोग किया जाएगा।

5 दिन तक जारी रहने वाले पैग़म्बरे आज़म-17 सैन्य अभ्यास में आधुनिकतम हथियारों का भी परीक्षण किया जाएगा। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स