May २१, २०२२ १८:५५ Asia/Kolkata
  • ईरान ने किया ताजिकिस्तान में

ईरान ने रक्षा उपकरणों के निर्माण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए ताजिकिस्तान में "अबाबील" नाम के ड्रोन के निर्माण के कारखाने का उद्घाटन कर दिया है।

ईरान की सशस्त्र सेना के जनरल स्टाफ के प्रमुख मोहम्मद बाक़िरी पिछले सप्ताह ताजिकिस्तान की यात्रा पर गये थे जिसके दौरान ईरान द्वारा "अबाबील" ड्रोन निर्माण के कारखाने का उद्घाटन किया गया था। इससे पहले वेनेजोएला और इथोपिया जैसे देशों में ईरान द्वारा बनाये गये ड्रोन विमानों की तस्वीरें प्रकाशित हो चुकी हैं परंतु कभी भी आधिकारिक रूप से यह खबर प्रकाशित नहीं हुई थी कि ईरान अपने ड्रोनों को बेचेगा या दूसरे देशों में उनके निर्माण के लिए कारखाने बनायेगा।

समाचार एजेन्सी तसनीम की रिपोर्ट के अनुसार ईरान द्वारा बनाये तक ड्रोनों की तकनीक प्रतिरोधक गुटों के पास भी हैं जिससे आसमान में प्रतिरोधक गुटों की क्षमता में उल्लेखनीय वृद्धि हो गयी है।

ईरान के खिलाफ हथियारों का प्रतिबंध था परंतु 27 मेहर 1399 हिजरी शमसी अर्थात 18 अक्तूबर 2020 को सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव नंबर 2231 के अनुसार यह प्रतिबंध निरस्त कर दिया गया और यह विषय इस बात का कारण बना है कि ईरान अब किसी कानूनी बाधा के बिना दूसरे देशों से हथियारों का क्रय- विक्रय कर सकता है और इस संबंध में अब वह कुछ देशों से वार्ता भी कर रहा है।

जनरल बाकिरी ने पिछले साल ईरान की इस्लामी व्यवस्था के संस्थापक स्वर्गीय इमाम खुमैनी रह. के मज़ार में दिये जाने वाले अपने एक बयान में रक्षा के क्षेत्र में ईरानी उत्पादों की ओर संकेत किया और कहा था कि अगर अपराधी अमेरिका के प्रतिबंध खत्म हो जायें तो ईरान हथियारों का निर्यात करने वाला एक बड़ा देश बन जायेगा।

ज्ञात रहे कि ईरान जिन ड्रोनों का निर्माण कर रहा है उनमें से कुछ 4400 किलोमीटर तक उड़ सकते हैं और ईरान ने जहां मिसाइल आदि क्षेत्रों में ध्यान योग्य प्रगति की है वहीं ड्रोन विमानों के निर्माण के क्षेत्र में भी उल्लेखनीय प्रगति की है और उसकी प्रगति एक बहुत कारण है जिसकी वजह से दुश्मन ईरान पर हमले का साहस नहीं कर पा रहे हैं। क्योंकि दुश्मनों को ईरान की सैनिक शक्ति का अंदाज़ा बहुत अच्छी तरह है और वे इस बात को भलीभांति जानते हैं कि ईरान पर हमले का अंजाम क्या होगा।

दूसरे शब्दों में दुश्मन ईरान के जवाब से भयभीत व चिंतित हैं इसलिए वे ईरान पर हमले की किसी प्रकार की मूर्खता नहीं कर रहे हैं और ईरान की अनवरत प्रगति तेहरान से दुश्मनी का कारण और वह दुश्मनों की आंखों का कांटा बना हुआ है। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स