May २४, २०२२ १३:०७ Asia/Kolkata

ईरान के स्वास्थ्य व मेडिकल एजुकेशन मंत्री डाक्टर बहराम एनुल्लाही का जेनेवा में बड़ी व्यस्तता वाला दिन। संयुक्त राष्ट्र संघ के जेनेवा स्थिति हेडक्वार्टर्ज़ में आयोजित कार्यकर्मों में भाग लेने पहुंचे डाक्टर एनुल्लाही ने दूसरे दिन कई विशेषज्ञ समितियों की बैठकों में हिस्सा लिया और कई देशों के अपने समकक्षों से अलग अलग मुलाक़ातें कीं।

....ईरान और क़तर के स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में क़तर में फ़ुटबाल विश्व कप के दौरान मेडिकल सेवाओं में सहयोग, हेल्थकेयर के क्षेत्र में निवेश और मेडिकल सेमीनारों के आयोजन के विषय पर विचार विमर्श हुआ।....डाक्टर एनुल्लाही का कहना था कि दुश्मनों ने हमारे इलाक़े में जो हालात पैदा कर दिए उसकी वजह से क्षेत्रीय देशों के आपसी सहयोग में कमी है। हम इस कोशिश में हैं कि अपने इस इलाक़े में फ़ार्स खाड़ी के इलाक़े में देशों के बीच एक कान्फ़्रेंस हो।

डाक्टर एनुल्लाही की दूसरी मुलाक़ात भारतीय समकक्ष से हुई। दवासाज़ी, पारम्परिक चिकित्सा और आईटी जैसे क्षेत्रों में सहयोग पर विशेष रूप से बातचीत हुई। स्वास्थ्य मंत्री इसके बाद डब्ल्युएचओ के जनरल सेक्रेट्री से मुलाक़ात के लिए गए जिन्हें दूसरे पांच साल के टर्म के लिए इसी पद पर बाक़ी रखा गया है। टेडरोस आदहानोम ने कोरोना वायरस की महामारी से मुक़ाबले में ईरान के प्रयासों की सराहना की और डाक्टर एनुल्लाही ने ईरान पर लगे अन्यायपूर्ण प्रतिबंधों विशेष रूप से खाने पीने की चीज़ों और दवाओं के क्षेत्रों पर पाबंदियों को तत्काल हटाए जाने की मांग की।....डाक्टर एनुल्लाही ने कहा कि हमने टेडरोस आदहानोम से कहा कि आप कहते हैं कि दवाएं और मेडिकल उपकरण पाबंदियों के दायरे में नहीं आते लेकिन हमारा सवाल यह है कि इन दवाओं और उपकरणों के लिए हमें जो क़ीमत अदा करनी है वह हम क़ीमत हम किस बैंक के ज़रिए अदा करें। जब आपने हमारे बैंकों पर पाबंदी लगा दी है तो व्यवहारिक रूप से देखा जाए तो आपने दवाओं पर भी पाबंदी लगा दी है।

क्यूबा के स्वास्थ्य मंत्री से मुलाक़ात इस सफ़र में डाक्टर एनुल्लाही का आख़िरी प्रोग्राम था। विश्व स्वास्थ्य संगठन की जनरल एसेंबली का सम्मेलन 28 मई तक जारी रहेगा। इस अधिवेशन के अंत में ग़ज़्जा पट्टी में इस्राईल के अपराधों के ख़िलाफ़ एक प्रस्ताव भी पारित होने वाला है।

जेनेवा से आईआरआईबी के लिए शहसवार हुसैनी की रिपोर्ट

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स