May २८, २०२२ २०:४६ Asia/Kolkata
  • फ़ार्स की खाड़ी में सुपर पॉवर को ईरान का चैलेंज, क्या पानी में लगेगी युद्ध की आग?

यूनान के वर्तमान में फ़ार्स की खाड़ी में 18 जहाज हैं, और इस संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है कि अगर यह देश ईरान के ख़िलाफ़ अपनी वर्तमान नीति जारी रखता है तो तेहरान अधिक यूनानी जहाज़ों को ज़ब्त नहीं करेगा।

समाचार एजेंसी तसनीम की रिपोर्ट के मुताबिक़, आईआरजीसी ने शुक्रवार को फ़ार्स की खाड़ी में दो यूनानी तेल टैंकरों को ज़ब्त कर लिया। ज़ब्त किए गए जहाज़ों के बारे में यूनान का कहना है कि उसने इन जहाज़ों को अमेरिका को दे दिया है। वहीं अमेरिका ईरान की इस कार्यवाही से आग बबूला हो गया है। वहीं आईआरजीसी ने दोनों जहाज़ों को अपने क़ब्ज़े में लेने के बाद उन जहाज़ों पर सवार लोगों को भी हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ जारी है। हालांकि इस मामले पर अभी तक किसी ईरानी भी अधिकारी ने कोई टिप्पणी नहीं की है।

इस बीच आईआरजीसी द्वारा दो यूनानी जहाज़ों को पकड़े जाने के मामले पर ईरान के वरिष्ठ राजनीतिक टिकाकार सैयद मोहम्मद मरंदी ने प्रेस टीवी को बताया कि यूनानी तेल टैंकर को ज़ब्त करके,  तेहरान अमेरिका समेत उन सभी देशों को कड़ा संदेश देना चाहता है ईरान के तेल व्यापार को नुक़सान पहुंचा रहे हैं। वहीं अमरीकी नौसेना के पांचवे बेड़े के कमांडर टिमोथी हाकेन्ज़ ने असोसिएटेड प्रेस से बात करते हुए कहा कि देश की नौसेना इस मामले की जांच कर रही है।  इस बारे में उन्होंने विस्तार से कुछ कहने से इंकार कर दिया है। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स