Jun २६, २०२२ ०९:५७ Asia/Kolkata
  • वार्ता की मेज़ को नहीं छोड़ेंगेः रईसी

राष्ट्रपति रईसी का कहना है कि प्रतिबंधों को हटाने से संबन्धित वार्ता को किसी भी स्थति में नहीं छोड़ेंगे।

यूरोपीय संघ की विदेश नीति के प्रभारी शनिवार को तेहरान की यात्रा पर आए थे।  तेहरान में उन्होंने विदेशमंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान से भेंटवार्ता की।  उन्होंने बताया कि तेहरान यात्रा का मेरा उद्देश्य, वार्ता के मार्ग में आने वाले गतिरोध को दूर करना है।

इसी बीच राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने शनिवार की रात अपने टेलिविज़न संबोधन में यूरोपीय संघ की विदेश नीति के प्रभारी की तेहरान यात्रा का उल्लेख करते हुए कहा कि ईरान, वार्ता को रोकने का इरादा नहीं रखता किंतु वह अपनी नीति से भी पीछे नहीं हटेगा।

ईरान के राष्ट्रपति ने कहा कि हमारी नीति प्रतिबंधों को हटवाना है।  इब्राहीम रईसी के अनुसार इन अत्याचारपूर्ण प्रतिबंधों को बहुत जल्दी हट जाना चाहिए।  उन्होंने कहा कि सामने वाले पक्ष को वार्ता की मेज़ पर आना चाहिए।  उनका कहना था कि हम वार्ता के साथ ही साथ प्रतिबंधों को निष्क्रिय करने की प्रक्रिया को भी आगे बढ़ाते रहेंगे।

राष्ट्रपति रईसी ने वार्ता के दौरान बोर्ड आफ गवर्नर्स की ओर से ईरान के विरुद्ध प्रस्ताव को अनुचित बताते हुए कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेन्सी आईएईए इस बात की 15 बार पुष्टि कर चुकी है कि ईरान की परमाणु गतिविधियों में बिल्कुल भी दिशाभेद नहीं पाया गया।

अपने संबोधन के दूसरे भाग में ईरान के राष्ट्रपति रईसी ने पड़ोसी देशों के साथ सहयोग के संदर्भ में कहा कि इस बात को हमारी विदेश नीति में प्राथमिकता हासिल है।  उन्होंने बताया कि 18 देशों के साथ हमने तकनीकी सेवाएं निर्यात करने के लिए 2.5 अरब डाॅलर के समझौते किये हैं।  राष्ट्रपति रईसी ने बताया कि पिछले तीन महीनों के दौरान पड़ोसी देशों के साथ व्यापारिक दृष्टि से 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

उनका कहना था कि इस समय तेल की बिक्री की हालत ठीक है।  उन्होंने बताया कि निर्यात से हासिल होने वाली विदेशी मुद्रा को देश तक लाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स