Jun २६, २०२२ २३:४९ Asia/Kolkata
  • ईरान ने क्षेत्र के अहम मुद्दे उठाए, इराक़ को बताया सबसे निकट देश

ईरानी राष्ट्रपति का कहना है कि ईरान और इराक़ के अधिकारियों के संबंधों के विस्तार का मजबूत इरादा है।

इराक के प्रधान मंत्री के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में इस्लामी गणतंत्र ईरान के राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने ज़ोर देकर कहा कि ईरान और इराक के वरिष्ठ अधिकारी सभी क्षेत्रों में संबंधों को विकसित और विस्तृत करने के लिए मज़बूत इरादा रखते हैं।

रविवार शाम इराकी प्रधान मंत्री मुस्तफा अल काज़ेमी के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में बोलते हुए ईरानी राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने कहा कि इराक़ के साथ ईरान के संबंध सामान्य और पारंपरिक नहीं हैं बल्कि संबंधों की जड़ें गहरी हैं।

उन्होंने कहा कि आज हम इराक़ को ईरानी राष्ट्र के सबसे करीबी राष्ट्र के रूप में देखते हैं और विभिन्न क्षेत्रों में हमारे घनिष्ठ संबंध हैं।

ईरान के राष्ट्रपति सैयद इब्राहिम रईसी ने कहा कि आज की बातचीत में दोनों देशों के बीच राजनीतिक, आर्थिक और व्यापारिक संबंधों पर चर्चा हुई और हमने इन क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच बातचीत को विस्तृत करने पर सहमित जताई है। ईरानी राष्ट्रपति ने कहा कि इराक़ी प्रधानमंत्री के साथ वार्ता शल्मचे और बसरा रेलवे परियोजनाओं के कार्यान्वयन में तेजी लाने के लिए सहमत हुई है।

राष्ट्रपति सैयद इब्राहिम रईसी ने इस बात पर ज़ोर दिया कि क्षेत्र में विदेशियों की उपस्थिति या हस्तक्षेप न केवल समस्याओं का समाधान नहीं है बल्कि समस्याओं का कारण ही बनता है।

यमनी लोगों की समस्याओं के समाधान और शीघ्र युद्धविराम की आवश्यकता पर बल देते हुए इस्लामी गणतंत्र ईरान के राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने कहा कि यमन और यमनियों की घेराबंदी को हटाने और यमनी लोगों के बीच बातचीत करने से देश की समस्याओं और कष्टों को कम किया जा सकता है।

राष्ट्रपति ने कहा कि ज़ायोनी शासन के साथ संबंधों के सामान्य होने या क्षेत्र में विदेशियों की उपस्थिति निश्चित रूप से समस्याएं पैदा करेगी और किसी भी समस्या का समाधान नहीं करेगी। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए  

टैग्स