Jun ३०, २०२२ ०९:३२ Asia/Kolkata
  • ज़ायोनी शासन के पांव जहां पड़ते हैं सुरक्षा और शांति के लिए संकट खड़ा हो जाता है, ईरान ने साबित किया कि कठिन समय में अपने पड़ोसियों की भरपूर मदद करता हैः रईसी

ईरान के राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने ज़ोर देकर कहा कि इलाक़े में जहां भी इस्राईल के क़दम पड़े हैं वहां शांति और सुरक्षा के लिए संकट खड़ा हुआ है।

तुर्कमनिस्तान में शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए पहुंचे राष्ट्रपति रईसी ने बुधवार की शाम आज़रबाईजान के राष्ट्रपति इलहाम अलीओफ़ से मुलाक़ात में कहा कि क्षेत्रीय शिखर बैठकों का एक फ़ायदा यह है कि पड़ोसी देशों के नेताओं से बड़ी अच्छी बातचीत करने और आपसी समझ बनाने का मौक़ा मिल जाता है। उन्होंने कहा कि कैस्पियन सागर के इलाक़े में शांति और सुरक्षा तटीय देशों के आपसी सहयोग से ही मुमकिन होगी।

राष्ट्रपति रईसी का कहना था कि राजनैतिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और व्यापारिक क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के लिए मौजूदा क्षमताओं का भरपूर इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

राष्ट्रपति रईसी ने दोनों देशों के गहरे संबंधों का हवाला देते हुए कहा कि ईरान ने साबित किया है कि कठिन समय में पड़ोसी देशों के साथ खड़ा होता है और कभी उन्हें अकेला नहीं छोड़ता।

राष्ट्रपति रईसी का कहना था कि ग़ैर क़ानूनी शासन इस्राईल की उपस्थिति इलाक़े के फ़ायदे में नहीं है सुरक्षा क्षेत्रीय देशों के आपसी सहयोग से ही सुनिश्चित होगी।

इस मुलाक़ात में आज़रबाइजान के राष्ट्रपति ने कहा कि हम यह समझते हैं कि इन मुलाक़ातों से दोनों देशों के बीच सहयोग का स्तर बढ़ेगा।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स